राजगीर: बदमाशों ने बीच बाजार लोगों को पीटा और की आगज़नी, दो दर्जन जख्मी, विरोध में बाजार बंद

0
78

राजगीर थाना के निकट मुख्य बाजार में शनिवार की शाम हथियार से लैस बदमाशों की टोली ने आतंक मचा दिया। करीब दर्जन भर बदमाश हथियार, रॉड व लाठी लेकर आ गए और राहगीर व दुकानदारों की पिटाई करने लगे। बदमाश महिलाओं से भी बदसलूकी कर रहे थे। इससे मौके पर भगदड़ मच गई। बिना कुछ कहे बदमाश रॉड व लाठी से लोगों को पीट रहे थे। लोग बचाओ-बचाओ का शोर मचा रहे थे। बदमाशों का आतंक देख मौजूद पुलिसकर्मी भी जान बचाकर भाग खड़े हुए। घटना को अंजाम दे सभी बदमाश बाइक पर सवार हो हथियार लहराते हुए भाग गए। घटना में करीब दो दर्जन लोग जख्मी हुए हैं। उपद्रवियों ने एक दर्जन से अधिक वाहनों को भी क्षतिग्रस्त किया है।

बाद में घटना के विरोध में सैकड़ों लोग सड़क पर उतरकर हंगामा करने लगे। बाजार बंद हो गया। आम लोग आगजनी कर बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए प्रदर्शन करने लगे। इसके बाद दलबल के साथ पुलिस आ गई। फिलहाल बाजार को छावनी में तब्दील कर दिया गया है। बदमाशों ने किस मंशा से घटना को अंजाम दिया, इसका खुलासा नहीं हो सका है। अंदेशा है कि बदमाश वर्चस्व का प्रदर्शन कर रहे थे।

विरोध में सड़क जाम कर आगजनी

घटना के विरोध में नागरिकों ने बाजार की दुकानें बंद करा दी है। सैकड़ों लोग सड़क पर उतर कर प्रदर्शन करने लगे। इसके बाद जगह-जगह आगजनी होने लगी। आक्रोशित लोग बदमाशों पर त्वरित कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। पुलिस आक्रोशितों को समझाने में जुटी है।

बच्चे-बुजुर्ग और महिलाओं को भी पीटा

एकाएक आए बदमाशों को जो दिखा उसकी पिटाई करने लगे। बच्चे, बुजुर्ग और महिलाओं को भी नहीं बख्शा गया। सभी को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा जा रहा था। लोग बचाने का शोर मचाते हुए सड़क पर भाग रहे थे। दुकानों से खींचकर, व्यवसायियों को पीटा जा रहा था।

जान बचा भागे पुलिसकर्मी 

मौके पर कुछ पुलिसकर्मी भी मौजूद थे। लोगों के बचाने का शोर सुनने के बाद भी पुलिसकर्मी जान बचाकर भाग निकले। बदमाशों के जाने के बाद पुलिसवाले मौके पर दलबल के साथ पहुंचे।

दो दर्जन लोग हुए जख्मी 

घटना में दो दर्जन से अधिक लोग जख्मी हुए हैं। जख्मी लोगों में नालंदा यूनिवर्सिटी में काम करने वाले समस्तीपुर निवासी रोहित कुमार, बंगाली पाड़ा निवासी बीएमपी जवान सुधीर कुमार, दीपेश कुमार, जितेंद्र कुमार, झालर निवासी आलम, कुंडपर निवासी धर्मेंद्र कुमार, विक्की कुमार, सुधीर कुमार समेत अन्य शामिल हैं। सभी को इलाज के लिए अस्पताल लाया गया है। जहां से गंभीर रूप से तीन घायलों को सदर अस्‍पताल रेफर कर दिया गया है।

डीएसपी-थानेदार पर लापरवाही का आरोप

आक्रोशित लोगों ने बताया कि जिस तरह से बदमाशों ने सड़क पर लोगों की पिटाई की उससे जंगलराज की याद ताजा हो गई। डीएसपी और थानेदार की लापरवाही के कारण राजगीर में क्राइम का ग्राफ बढ़ा है। दर्जनों बदमाश बाजार में नागरिकों और दुकानदारों की पिटाई कर चलते बने और मौजूद पुलिसकर्मी भाग खड़े हुए। नागरिकों की सुरक्षा भगवान भरोसे है।

कार्रवाई में जुटी पुलिस

डीएसपी सोमनाथ प्रसाद और थानाध्यक्ष संतोष कुमार ने अस्पताल पहुंचकर घटना के बाबत जख्मी लोगों से पूछताछ की। डीएसपी ने बताया कि पुलिस बदमाशों पर कार्रवाई में जुट गई है। इलाके का सीसीटीवी फुटेज खंगाला जा रहा है। जल्द ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.