पटना: डैमेज कंट्रोल मोड में भाजपा, डिप्टी सीएम बोलीं- नीतीश हमारे गार्जियन

0
35

बिहार में जारी सियासी उथल-पुथल के बीच डिप्टी सीएम ने अपनी सरकार और नीतीश कुमार का बचाव किया है. बिहार की डिप्टी सीएम रेणु देवी (Deputy CM Renu Devi) ने मंगलवार को कहा कि मेरा घर मजबूत है और इसे कोई तोड़ नही सकता. नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की तारीफ करते हुए डिप्टी सीएम ने कहा कि मेरा मुखिया मजबूत है और साथ ही साथ पूरा घर भी मजबूत है तो इसे कौन तोड़ेगा. उन्होंने राजद (RJD) पर निशाना साधते हुए पूछा कि वो लोग क्यों परेशान हैं ये वही जानें.

रेणु देवी ने कहा कि उनकी परेशानी है कि उनके पास कोई नहीं है और वो सोचते हैं कि हमारे मुखिया यानी नीतीश कुमार जो कि हमारे गार्जियन हैं, वो उनके साथ चले जायेंगे पर हमारे गार्जियन थोड़े न जाने वाले हैं. रेणु देवी ने नीतीश कुमार को एनडीए का गार्जियन बताया. दरअसल, अरुणाचल प्रदेश में जेडीयू के 6 विधायकों के बीजेपी के जाने के बाद इसका असर बिहार में भी देखने को मिल रहा है. इस बीच राजद की तरफ से एक ओर जहां बीजेपी पर निशाना साधा जा रहा है तो वहीं नीतीश कुमार को साथ आने का ऑफर भी दिया जा रहा है.

राजद ने तो जेडीयू के 17 विधायकों के अपने साथ तक होने का दावा कर दिया है. नीतीश कुमार की सरकार में मंत्री रहे और चुनाव से पहले राजद में शामिल होने वाले वरिष्ठ नेता श्याम रजक का बड़ा बयान आया है. श्याम रजक ने दावा किया है की JDU के 17 विधायक राजद के सम्पर्क में हैं, लेकिन दल-बदल क़ानून को देखते हुए और विधायकों की संख्या बढ़ाई जा रही है. बहुत जल्द ही वो संख्या पूरी हो जाएगी.

दूसरी तरफ, मंगलवार को राजद के दो बड़े नेताओं ने नीतीश कुमार को साथ आने का ऑफर देकर बिहार की राजनीति को गरमा दिया. राजद नेता और पूर्व मंत्री विजय प्रकाश ने कहा कि नीतीश जी आपकी सहयोगी पार्टी भाजपा आपको परेशान कर रही है. आप बिहार की गद्दी का लोभ छोड़िए और केंद्र की राजनीति कीजिए. विजय प्रकाश ने कहा कि केंद्र की राजनीति करने में राजद पूरी ताक़त से नीतीश कुमार की मदद करेगा. इससे पहले राजद के नेता और बिहार विधानसभा के स्पीकर रह चुके उदय नारायण चौधरी ने बयान दिया था की नीतीश कुमार तेजस्वी को मुख्यमंत्री बनाए और खुद PM के उम्मीदवार बनें. केंद्र की राजनीति में राजद उनका साथ देगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.