समस्तीपुर: मुखिया के मौत पर भारी बवाल, पुलिस पर जानलेवा हमला, थाने में रोड़ेबाजी

0
46

पटना के अस्पताल में इलाज करा रहे लोजपा के प्रदेश सचिव और गोही पंचायत के मुखिया राजेश साहनी की मौत हो गई है. उनकी मौत के बाद ग्रामीणों का गुस्सा भड़क उठा है. आक्रोशित भीड़ ने पुलिस के ऊपर जानलेवा हमला किया है. थाने में घुसकर हंगामा और रोड़ेबाजी की गई है. लोगों ने पुलिस की गाड़ी को को भी क्षतिग्रस्त कर दिया है.

आपको बता दें कि एक सप्ताह पहले समस्तीपुर के वारिसनगर थाना इलाके में अपराधियों ने दिनदहाड़े राजेश साहनी को गोलियों से भून दिया था, जिन्होंने अब दम तोड़ दिया है. लोजपा नेता की मौत के बाद उनके घर में कोहराम मच गया है. घरवालों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया है. मुखिया राजेश सहनी अपने इलाके में काफी लोकप्रिय थे. साथ ही पार्टी लोजपा में भी उनकी अच्छी खासी पहचान थी. वे लगातार दो टर्म से गोही पंचायत के मुखिया थे.

समस्तीपुर के मुखिया हॉस्पिटल में हुई मौत ,एक सप्ताह पहले दिनदहाड़े  अपराधियों ने गोलियों से भूना था - Bihar Superfast Khabar

पटना में पोस्टमार्टम के बाद जब राजेश सहनी के शव को समस्तीपुर लाया गया तो काफी संख्या में ग्रामीण शव के साथ वारिसनगर थाने पर पहुंच गए और पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी करते हुए काफी देर से हंगामा करने लगे. इस दौरान भीड़ को समझाने आए थाने के पुलिसकर्मियों को गुस्साए लोगों ने न केवल खदेड़ दिया बल्कि थाने पर रोड़ेबाजी भी की.  जानकारी के मुताबिक थाने पर रखे कुछ पुलिस वाहन को भी क्षतिग्रस्त किया गया है. लोगो का गुस्सा इस बात से है कि राजेश सहनी को पहले भी गोली मारी गई थी उस मामले में भी पुलिस ने न तो उन्हें सुरक्षा मुहैया करवाई और न ही कोई कार्रवाई ही की.

इसका नतीजा हुआ कि मुखिया पर दुबारे हमला कर उनकी हत्या कर दी गई.  मुखिया की पत्नी के बयान पर जिन अपराधियों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई गई उन्हें भी अबतक गिरफ्तार नहीं किया गया है. थाने पर लोगो की भारी भीड़ अबतक जुटी हुई है काफी तनाव की स्थिति बनी हुई है.  वरीय अधिकारियों के भी थाने पर पहुंचने की जानकारी मिल रही है.

हम आपको बता दें कि कुछ महीने पहले भी उनपर अपराधियों ने गोली मारकर जानलेवा हमला किया था लेकिन तब उनकी जान बच गई थी. उन्होंने अपने जान की सुरक्षा के लिए आलाधिकारियों से गुहार भी लगाई थी. परंतु एक सप्ताह पहले जब वे वारिसनगर थाना क्षेत्र के गोही गाछी के समीप से गुजर रहे थे. पहले से घात लगाए अपराधियों ने उनपर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी थी. उन्हें गम्भीर हालत में डीएमसीएच भर्ती कराया गया था. वहां और ज्यादा हालत बिगड़ने पर पीएमसीएच पटना में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था.

बिहार में एनडीए सरकार के गठन के बाद नीतीश कैबिनेट में जगह बनाने वाले वीआईपी के मुखिया मुकेश साहनी से भी इन्होंने मुलाक़ात की थी. वीआईपी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और मत्सय एवं पसुपालन मंत्री मुकेश साहनी से मिलकर इन्होंने बधाई दी थी. आपको बता दें कि राजेश कुमार साहनी मुखिया और  सचिव होने के अलावा बिहार मत्स्य सहकारी संघ डायरेक्टर भी थे.

बिहार में इन दिनों राजनीतिक पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं को लगातार निशाना बनाया जा रहा है. बीते गुरूवार को आरा में भी अपराधियों ने एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया, जहां बदमाशों ने राजद नेता को गोली मारकर हत्या कर दी. घटना भोजपुर जिले के गड़हनी थाना इलाके रमडिहरा गांव की है. जहां अपराधियों ने आयर थाना इलाके के भेड़री गांव के रहने वाले हरिद्वार यादव के बेटे रवि यादव का मर्डर कर दिया था.  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.