नाबालिग को हथियार चलाने की ट्रेनिंग दे रहे थे JDU नेता, वीडियो वायरल

0
33

इन दिनों एक विडियो राजनीतिक गलियारों में हलचल मचा रही है इस वायरल हो रहे विडियो में जदयू नेता और पूर्व विधायक विजेंद्र यादव एक नाबालिग लड़के को हथियार चलाने की ट्रेनिंग दे रहे हैं. वीडियो में दिख रहा किशोर नाबालिग लग रहा है. वीडियो सामने आने के बाद भोजपुर पुलिस ने कार्रवाई करते हुए मामला दर्ज किया है. पुलिस ने हथियार को भी जब्त कर लिया है.


मामला भोजपुर जिले के गड़हनी थाना क्षेत्र का है, जहां पुलिस ने पूर्व विधायक के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है. दरअसल इस वीडियो के वायरल होने के कारण उनके खिलाफ पुलिस ने यह एक्शन लिया है. वायरल वीडियो में जेडीयू नेता और इसबार विधानसभा चुनाव में संदेश सीट से जेडीयू के उम्मीदवार विजेंद्र यादव दिख रहे हैं, जो एक लड़के को हथियार चलाने की ट्रेनिंग दे रहे हैं.


इस वायरल हो रहे वीडियो में विधायक की लाइसेंसी बंदूक से एक लड़का फायरिंग करते दिख रहा है. वीडियो में विधायक भी लड़के के पीछे ही खड़े नजर आ रहे हैं. यह वीडियो किसी भीड़भाड़ वाले इलाके की लग रही है. इस वीडियो के आधार पर पूर्व विधायक के खिलाफ गड़हनी थाना में प्राथमिकी दर्ज कर पुलिस लाइसेंसी हथियार को जब्त कर लिया गया है.


भोजपुर एसपी हर किशोर ने बताया कि पूर्व विधायक के कहने पर ही दूसरा लड़का घनी आबादी वाले क्षेत्र में गोली चला रहा था. इसलिए लाइसेंस की शर्तों का उल्लंघन करने के आरोप में उनकी बंदूक को जब्त कर लिया गया है. इस वीडियो के सामने आने के बाद कानून कार्रवाई करने का आदेश डीएसपी और संबंधित थाने को दिया था.


कानूनी कार्रवाई होने के बाद पूर्व विधायक विजेंद्र यादव ने एफआइआर दर्ज करने और लाइसेंसी बंदूक जब्त किए जाने की प्रक्रिया को गलत बताया है. पूर्व विधायक ने नियमों का हवाला देकर जिलाधिकारी के आदेश पर शस्त्र जमा करने की बात कही थी. बताया जाता है कि शस्‍त्र लाइसेंस रखने की नई गाइडलाइन के तहत भोजपुर डीएम रोशन कुशवाहा ने संदेश के पूर्व विधायक विजेंद्र यादव को एक लाइसेंसी बंदूक जमा करने का आदेश दिया था.


संदेश के पूर्व विधायक विजेंद्र यादव ने वायरल वीडियो को तीन महीने पहले का बताया है. उनके अनुसार यह कोई भी हर्ष फायरिंग का वीडियो नहीं है. वे दीपावली के समय हथियार टेस्टिंग के लिए घर पर ही फायरिंग कराए थे. बिना किसी जांच और सत्यापन के एफआइआर दर्ज की गई है. पूर्व विधायक के अनुसार जिलाधिकारी के आदेश पर उन्‍होंने चार जनवरी को ही आरा की एक लाइसेंसी दुकान पर शस्त्र जमा कर दिया था. बावजूद, दुकान से पुलिस ने शस्त्र जब्त कर अपराध किया है. नियमों का उल्लंघन किया है.


बताते चलें कि जेडीयू नेता व पूर्व विधायक इस बार जेडीयू की टिकट पर भोजपुर जिले के संदेश विधानसभा सीट से चुनावी मैदान में थे. ये पहले लालू यादव की पार्टी में प्रदेश उपाध्यक्ष के पद पर थे. चुनाव में टिकट लेने के लिए इन्होंने पाला बदलकर जेडीयू का दामन थाम लिया था. लेकिन विजेंद्र यादव अपने ही छोटे भाई और आरजेडी के बाहुबली नेता अरुण यादव की पत्नी किरण देवी से चुनाव हार गए. किरण देवी ने इन्हें रिकार्ड मतों से हराया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.