मुख्यमंत्री श्री नीतीष कुमार एन0एम0सी0एच0 में कोविड-19 हेतु वैक्सीन सेंटर का निरीक्षण करने के उपरांत अपने आवास लौटने के क्रम में अचानक गाड़ी रूकवाई और राजधानी वाटिका पहुॅच गये। राजधानी वाटिका जाकर मुख्यमंत्री ने पार्क की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। बाउंसिंग पर बड़ी संख्या में बच्चों को मस्ती करते देख मुख्यमंत्री प्रसन्न हुये। मुख्यमंत्री ने राजधानी वाटिका में बच्चों के साथ सेल्फी भी खींचवाई।


बाद में पत्रकारों से बातचीत करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2006 में यहाॅ आकर एक-एक चीज का आंकलन किया और उसी समय तय किया कि इस तरह से यहाॅ पार्क बनेगा। उन्होंने कहा कि इसका पहले 2 खंड था और अब 3 खंड हो चुका है। उसी समय हमलोगों ने यह तय कर दिया था कि इसका नाम राजधानी वाटिका होगा। ये इको पार्क के नाम से भी जाना जाता है। आप देख सकते हैं कि अब यहाॅ कितनी संख्या में लोग आते हैं। सच पूछिये तो पटना में अगर सबसे ज्यादा लोग कहीं आते हैं तो यहीं आते हैं। मोर के लिये यहाॅ कोई दिक्कत नहीं है लेकिन जितनी संख्या उनकी बढ़नी चाहिये उस हिसाब से नहीं बढ़ी है। मोर की सुविधाओं के लिये सब तरह का इंतजाम किये गये हैं। हमारे कैम्पस में 5-6 मोर एक साथ रहते थे, पर अब आजकल कभी-कभी एक या दो ही आते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.