Patna: भूपेंद्र यादव से बात कर CM ने तय किया मंत्रिमंडल विस्तार का फार्मूला, MLC का मामला भी सुलझा

0
45

वो दौर और था जब नीतीश कुमार नरेंद्र मोदी और अमित शाह से मिलकर आपसी मुद्दों का हल निकालते थे. अब भूपेंद्र यादव से बात करनी पडी है. नीतीश कुमार की गुरूवार यानि आज बिहार बीजेपी के प्रभारी भूपेंद्र यादव से बातचीत हुई और मंत्रिमंडल विस्तार से लेकर विधान पार्षदों के चुनाव-मनोनयन का मामला सुलझ गया. सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक इसी महीने मंत्रिमंडल का विस्तार हो जायेगा. विधान परिषद की दो सीटों पर उप चुनाव और 12 एमएलसी के मनोनयन का मामला भी सुलझ गया है.

चुनाव बाद पहली दफे नीतीश से मिले भूपेंद्र यादव
बिहार विधानसभा चुनाव के बाद बिहार बीजेपी के प्रभारी भूपेंद्र यादव पहली दफे नीतीश कुमार से मिले. भूपेंद्र य़ादव बीच में भी पटना आये थे लेकिन नीतीश से मिलने नहीं गये थे. भूपेंद्र आज केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद की मां के श्राद्ध में शामिल होने पटना आये थे. इसी मौके पर उन्होंने बीजेपी-जेडीयू के बीच फंसे मामलों का भी हल निकाला. हम आपको बता दें कि खुद नीतीश कुमार ने कहा था कि बीजेपी के कारण मंत्रिमंडल का विस्तार नहीं हो रहा है. सूत्र बता रहे हैं कि भूपेंद्र यादव ने ग्रीन सिग्नल दे दिया है.

पहले RCP फिर नीतीश से मुलाकात
गुरूवार की सुबह पटना पहुंचे भूपेंद्र यादव पहले जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने आरसीपी सिंह से जाकर मिले. कहा गया कि भूपेंद्र यादव आरसीपी सिंह को बधाई देने के लिए उनके पास गये थे. लेकिन बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल के साथ जेडीयू दफ्तर पहुंचे भूपेंद्र यादव ने बंद कमरे में आरसीपी सिंह के साथ लंबी बातचीत की. जानकारों ने बताया कि आरसीपी सिंह और भूपेंद्र यादव के बीच बातचीत में बीजेपी-जेडीयू के बीच फंसे मामलों पर आपसी सहमति बनाने की कोशिश की गयी. लेकिन अंतिम फैसला नीतीश कुमार के साथ बातचीत कर होना था. वैसे आरसीपी सिंह के पहले से ही भूपेंद्र यादव से अच्छे संबध रहे हैं. लिहाजा ज्यादातर मामले वहीं सुलझा लिये गये.

गुरूवार की शाम भूपेंद्र यादव अपनी टीम के साथ नीतीश कुमार के आवास पर पहुंचे. उनके साथ बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल के साथ साथ दोनों डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद और रेणू देवी भी मौजूद थीं. उधर सीएम आवास में आरसीपी सिंह पहले से मौजूद थे. सारे नेताओं की मौजूदगी में भूपेंद्र यादव की बातचीत नीतीश कुमार से हुई. आधे घंटे तक ये बैठक चली और इसमें आपसी विवाद के सारे मामले सुलझा लिये गये.

मंत्रिमंडल विस्तार पर हुआ फैसला
बीजेपी के एक नेता ने बताया कि आज की बैठक में मंत्रिमंडल विस्तार पर फैसला हो गया. बीजेपी पहले विधानसभा सीटों के हिसाब से मंत्रियों का कोटा फिक्स करने पर अड़ी थी. लेकिन आज हुई बैठक में बीजेपी ने जेडीयू को थोडी छूट दे दी. जेडीयू को अपने विधायकों की तादाद के मुकाबले कुछ ज्यादा मंत्री पद देने पर फैसला हो गया है. सूत्रों के मुताबिक बीजेपी ने नीतीश कुमार को खरमास के बाद मंत्रिमंडल विस्तार करने को कहा है, बीजेपी कोटे से बनने वाले मंत्रियों की सूची उसी मुताबिक उपलब्ध करा दी जायेगी.

MLC चुनाव पर भी चर्चा
भूपेंद्र यादव की नीतीश कुमार और आरसीपी सिंह के साथ हुई बैठक में MLC के दो सीटों पर उपचुनाव और राज्यपाल कोटे से 12 विधान पार्षदों के मनोनयन पर भी सहमति बनने की खबर है. बीजेपी सूत्रों ने बताया कि विधान परिषद की जिन दो सीटों पर उपचुनाव हो रहा है वो दोनों बीजेपी की हैं. लेकिन बीजेपी तात्कालिक जरूरत को देखते हुए सहयोगियों के लिए सीट छोड़ने पर राजी हो गयी है. हालांकि उसके बदले बीजेपी ने राज्यपाल कोटे से मनोनयन वाली सीटों में 7 सीटों की मांग की है. बीजेपी-जेडीयू में 7-5 के फार्मूला पर सहमति बनने की भी खबर आ रही है.  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.