पटना: मकर संक्रांति के बाद प्रदेश में जनता के बीच जाकर फ़ीड्बैक लेंगे तेजस्वी यादव

0
47

राजद ने विधानसभा की तैयारी अभी से शुरू कर दी है। राजद नेता तेजस्वी यादव ने पटना वापस लौटते ही प्रदेश राजद में हलचल शुरू हो गई है। 11 जनवरी को 22 प्रदेश उपाध्यक्षों की बैठक बुलाई गई है। पार्टी के अधिसंख्य वरीय नेता इसी पद पर काबिज हैं। नेताओं ने बताया कि विधानसभा चुनाव के बाद राज्य में उत्पन्न स्थिति पर विचार विमर्श और वर्तमान राजनीतिक परिवेश पर विशेष चर्चा के लिये बैठक बुलायी गई है।

दरअसल शनिवार को भी तेजस्वी ने सार्वजनिक रुप से दोहराया कि राजद मध्यावधि चुनाव की तैयारी कर रहा है। उसी तैयारी के क्रम में मकर संक्रांति के बाद वे बिहार की यात्रा पर निकलने वाले हैं। उन्होंने कहा कि पार्टी के लोग बैठेंगे और यात्रा का शेड्यूल तय करेंगे। इसके लिए मकर संक्रांति के बाद 16 जनवरी को प्रदेश प्रधान महासचिव, महासचिवों और सचिवों की बैठक भी बुलायी गई है।

वैसे नए वर्ष में राजद ने बूथ स्तर की समीक्षा शुरू कर दी है। बूथ स्तर तक के नेताओं और कार्यकर्ताओं से रिपोर्ट मांगी गई है। जिन जिन बूथों पर वोट कम पड़े उनकी पड़ताल की जा रही है। राजद के आधार समीकरण वाले बूथों पर कम वोट पड़ने के कारण तलाशे जा रहे हैं।

दूसरे दल के उम्मीदवारों की सामाजिक समीकरण का भी अध्ययन किया जा रहा है। बैठक में हार के कारणों की तलाश होगी। उसके बाद जिन क्षेत्रों में राजद को कम वोट पड़े उन क्षेत्रों में अभी से जनसंपर्क अभियान शुरू किया जाएगा। वैसे क्षेत्र वाले जिलों में पार्टी नेता तेजस्वी के दौरे का कार्यक्रम बनाया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.