पटना: विधान परिषद जाएंगे शाहनवाज हुसैन, बीजेपी ने बनाया अपना उम्मीदवार,मंत्री बनाने की चर्चा

0
33

भारतीय जनता पार्टी ने बिहार विधान परिषद की दो सीटों के लिए होने वाले उपचुनाव के लिए एक प्रत्याशी के नाम का ऐलान कर दिया है। पूर्व केंद्रीय मंत्री और पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता सैयद शाहनवाज हुसैन को बीजेपी ने अपना उम्मीदवार बनाया है। बीजेपी के दिग्गज नेता और राज्य के पूर्व डिप्टी सीएम सुशील मोदी और विजय नारायण झा के इस्तीफा देने के बाद से बिहार विधान परिषद की दो सीटें खाली हुई हैं। सुशील मोदी अब राज्यसभा जा चुके हैं। वहीं पिछले साल हुए चुनाव में जीत हासिल कर विनोद नारायण झा विधायक बनकर विधानसभा पहुंच चुके हैं।

06 जनवरी को निर्वाचन आयोग ने बिहार विधान परिषद उपचुनाव की घोषणा कर दी थी। 11 जनवरी को अधिसूचना जारी कर दी गई। वहीं नामांकन दाखिल करने के लिए 18 जनवरी तक का समय है। नामांकन करने की अंतिम तारीख से दो दिन पहले ही बीजेपी ने एक उम्मीदवार के नाम का ऐलान कर दिया है। बता दें कि 28 जनवरी को सुबह 9 बजे से शाम चार बजे तक मतदान होगा और उसी दिन नतीजे घोषित कर दिए जाएंगे।

दूसरी सीट के लिए पार्टी जल्द ही उम्मीदवार के नाम की घोषणा कर सकती है। इसके अलावा पार्टी नेताओं के अनुसार, दो सीटों के बाद बीजेपी मनोनयन कोटे में 12 में से अपने हिस्से की 6 सीटों पर उम्मीदवारों के नाम तय करेगी। इसके लिए फिलहाल बीजेपी के कई वरिष्ठ नेताओं के नाम चर्चा में है। वैसे पार्टी अपने कोर वोटर वैश्य व ब्राह्मण को सबसे अधिक मौका देगी। चर्चा के अनुसार छह में सबसे अधिक दो वैश्य समुदाय के नेता विधान परिषद जा सकते हैं। इसका मूल कारण है कि 74 सीटों में सबसे अधिक वैश्य समुदाय के ही विधायक बने हैं। इसके अलावा ब्राह्मण, भूमिहार, राजपूत समुदाय से भी वरिष्ठ नेताओं को विधान परिषद में जाने का मौका मिल सकता है। वहीं, पिछड़ा समुदाय में कुर्मी-कुशवाहा से एक और एक दलित समुदाय के नेता को विधान परिषद भेजा जा सकता है।

खबर ये आ रही है कि शाहनवाज हुसैन को बिहार में मंत्री भी बनाया जायेगा। बिहार में बीजेपी के कम तजुर्बे वाले मंत्रियो के बीच शाहनवाज हुसैन नीतीश कुमार को संभालने के काम में लगाये जायेंगे।

MLC नहीं मंत्री बनने आ रहे हैं शाहनवाज
बीजेपी के एक वरीय नेता ने बताया कि शाहनवाज हुसैन का वनवास खत्म कर पार्टी ने उन्हें बिहार विधान परिषद के चुनाव में उम्मीदवार बनाया है तो इसके गहरे मायने हैं। शाहनवाज सिर्फ विधान पार्षद बनने बिहार नहीं आ रहे हैं। पार्टी उन्हें मंत्री बनाने के इरादे से बिहार भेज रही है। बीजेपी सूत्र बताते हैं कि आलाकमान ने इस महीने की शुरूआत में ही शाहनवाज हुसैन को बता दिया था कि उन्हें बिहार जाना है। उन्हें आगे का रोड मैप भी समझा दिया गया था। दरअसल काफी दिनों से वनवास झेल रहे शाहनवाज हुसैन ने जम्मू-कश्मीर के चुनाव में पार्टी के लिए जीतोड़ मेहनत की थी। इसके बाद आलाकमान ने उनके लिए नया रोल तय किया।

जानकारों की मानें तो इस महीने की शुरूआत से ही शाहनवाज हुसैन बिहार में एक्टिव हो गये थे। वे लगातार बिहार के नेताओं से मिल रहे थे। उन्होंने मुख्यमंत्री और डिप्टी सीएम से लेकर बिहार के दूसरे नेताओं से मुलाकात की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.