गणतंत्र दिवस परेड में शामिल होगी दरभंगा की भावना कंठ, एयरफोर्स की झांकी में शामिल होकर रचेगी इतिहास

0
42

बिहार के दरभंगा जिले के बाऊर गांव की बेटी महिला फाइटर पायलट भावना कंठ को इस वर्ष गणतंत्र दिवस की एयरफोर्स की झांकी में शामिल होने के लिए चुना गया है। बचपन से ही आसमान में जहाजों को उड़ते देख जहाज उड़ाने का सपना देखने वाली भावना इंडियन एयरफोर्स में पहले बैच की महिला पायलट हैं। भारतीय वायुसेना में इन्हें 18 जून 2016 को दो अन्य महिला पायलट अवनी चतुर्वेदी तथा मोहना सिंह के साथ फ्लाइंग ऑफिसर के रूप में चुना गया। भावना फाइटर स्क्वाड्रन में 2017 में शामिल हुई। वर्ष 2018 में भावना ने बाइसन से अकेले मिग -21 विमान उड़ाकर इतिहास रच दिया।

भावना फिलहाल भारतीय वायुसेना की गणतंत्र दिवस झांकी की तैयारी में जुटी है। राजपथ पर इस वर्ष भारतीय वायुसेना की झांकी में देश में निर्मित हल्के लड़ाकू विमान तेजस, लाइट काम्बेट हेलिकॉप्टर, रफाल, सुखोई 30, रोहिणी रडार, आकाश मिसाइल आदि आकर्षण के केंद्र बनेंगे।

भावना के पिता ई. तेजनारायण कंठ तथा माता राधा कंठ ने सोमवार को ‘हिन्दुस्तान’ को बताया कि मेरे लिए यह गौरव की बात है। भावना भी काफी उत्साहित है। घर-परिवार के लोग उस अविस्मरणीय क्षण को देखने के लिए प्रतीक्षारत हैं। भावना की दादी वयोवृद्ध बालेश्वरी देवी की आंखों में खुशी की चमक स्पष्ट दिखाई दे रही है। उन्होंने बताया कि भावना बचपन में जो सपना देखा करती थी, अपनी कठिन साधना तथा परिश्रम के बल पर वह सच साबित हो रही है।

बाऊर गांव निवासी नरेश वर्मा, मनोरंजन लाल दास, पप्पू लाल दास, अजीत कुमार लाभ, फूलेश्वर मंडल आदि ने बताया कि गांव के लोग 26 जनवरी को टीवी पर उस गौरवपूर्ण क्षण को अपनी आंखों से देखेंगे।

भावना के पिता ने बताया कि भावना तथा पूरे प्रदेश के लिए यह गौरव की बात है। गणतंत्र दिवस समारोह में उत्कृष्ट सैनिकों को ही चुना जाता है। ऐसे में भारतीय वायुसेना की पहली महिला फाइटर पायलट फ्लाइट लेफ्टिनेंट भावना कंठ का गणतंत्र दिवस झांकी में चुने जाने से पूरे समाज का तथा आधी आबादी का सर फक्र से ऊंचा हो गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.