एनसीसी कैडेट्स सड़क दुर्घटनाओं से निपटने में प्रथम उत्तरदाता की भूमिका निभाएंगे

0
34

 सड़क दुर्घटनाओं को रोकने और दुर्घटनाग्रस्त लोगों की जान बचाने के लिए एनसीसी, निदेशालय बिहार-झारखंड अब परिवहन मंत्रालय, पुलिस और एनसीसी के पूर्व छात्रों के साथ मिलकर काम करेगा। 

एन.सी.सी. के कैडेट्स ‘फर्स्ट रेस्पोंडेंट’ (प्रथम उत्तरदाता) के तौर पर स्वैच्छिक रूप से इस काम में साझेदारी करेंगे। एन.सी.सी. निदेशालय, बिहार-झारखंड की साझेदारी में परिवहन विभाग द्वारा फर्स्ट रेस्पोंडेंट नामक एक मोबाइल ऐप भी विकसित किया जाएगा। स्वयंसेवी एन.सी.सी. कैडेट्स और पूर्व छात्रों को परिवहन विभाग द्वारा प्राथमिक चिकित्सा, आपदा प्रबंधन और घायलों की सुरक्षित निकासी का प्रशिक्षण भी दिया जाएगा। एनसीसी, निदेशालय बिहार-झारखंड के महानिदेशक मेजर जनरल एम. इंद्रबालन ने सड़क सुरक्षा माह के उपलक्ष्य में यह जानकारी दी है। 

इस वर्ष राष्ट्रीय सड़क सुरक्षा सप्ताह के बजाय 18 जनवरी से 17 फरवरी 2021 तक सड़क सुरक्षा माह का अनुपालन किया जा रहा है। इसका उद्देश्य भारत में सड़कों और सड़क मार्गों को सुरक्षित बनाना है। इस दौरान सड़क दुर्घटनाओं से बचने और हादसे के शिकार लोगों को बचाने से संबंधति जागरूकता फैलाया जाएगा। सड़क सुरक्षा माह के दौरान राज्य सरकारों/संघ शासित राज्यों और अन्य हितधारकों के सहयोग से राष्ट्रव्यापी गतिविधियों का संचालन करने की योजना बनाई गई है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.