गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्‍या पर वीरता पुरस्‍कार घोषित, गलवान घाटी में शहीद होने वाले कर्नल संतोष बाबू को ‘महावीर चक्र’

0
62

केंद्र सरकार ने गणतंत्र दिवस (Republic day) की पूर्व संध्या पर वीरता पुरस्कारों (Bravery awards)का ऐलान किया है. 16 बिहार रेजीमेंट के कमांडिंग अफसर कर्नल संतोष बाबू को महावीर चक्र (Mahavir Chakra) देने की घोषणा की गई है. उन्‍हें यह अवार्ड मरणोपरांत प्रदान किया जाएगा. गौरतलब है कि महावीर चक्र युद्ध काल का दूसरा सर्वोच्च वीरता पदक है. इसी तरह सूबेदार संजीव कुमार को कीर्ति चक्र, नायब सूबेदार नंदूराम सोरेन को वीर चक्र प्रदान किया गया है.इसी क्रम में हवलदार के. पलानी, हवलदार तेजिंदर सिंह, नायक दीपक सिंह, सूबेदार गुरतेज सिंह को वीरता चक्र प्रदान करने का ऐलान किया गया है. मेजर अनुज सूद, Rfn प्रणब ज्‍योति दास और PTR शेरिंग तमांग को शौर्य चक्र से नवाजने की घोषणा की गई है, गौरतलब है कि गलवान घाटी में 16वीं बिहार रेजीमेंट के कमांडिंग ऑफिसर संतोष बाबू की अगुवाई में भारतीय सैनिकों ने चीनी सैनिकों के साथ झड़प में असाधारण साहस का परिचय दिया था. चीनी सैनिकों के साथ इस संघर्ष में संतोष बाबू सहित 20 भारतीय जवानों को जान गंवानी पड़ी थी लेकिन इन्‍होंने चीनी पक्ष को भी ‘खासा नुकसान’ पहुंचाया था.

मीडिया में आई  रिपोर्ट के अनुसार, झड़प में 40 से अधिक चीन के सैनिकों को या तो जान गंवानी पड़ी थी या फिर वे गंभीर रूप से घायल होना पड़ा था. पूर्वी लद्दाख में स्थित गलवान घाटी पर यह संघर्ष उस समय शुरू हुआ था जब भारतीय सैनिकों ने पेट्रोलिंग-14 के आसपास चीन के सैनिकों द्वारा निगरानी चौकी बनाए जाने का विरोध किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.