गणतंत्र दिवस पर पंचमहापुरुष योग में से 2 योग बन रहे हैं। एक तो रुचक योग मंगल के स्वराशि में होने से बन रहा है।

  1. आय भाव का स्वामी चतुर्थ भाव में मंगल की राशि मेष में है।

इस योग के बनने के कारण जनता के हितों की रक्षा के लिए कोई कानून बनता नजर आएगा।

जनता में आत्मविश्वास बढ़ेगा।

प्रॉपर्टी के दामों में तेजी देखने को मिलेगी।

स्थानीय राजनीति से जुड़े लोगों को लाभ होगा।

स्त्री वर्ग परेशान रहेगा। अत्याचार बढ़ता नजर आएगा। कालसर्प योग होने से शुभ फलों में कुछ कमी महसूस होगी।

मिथुन राशि में गणतंत्र दिवस होने से देश में द्विस्वभाव की स्थिति रहेगी।

देश के कर्णधारकों की वाणी वणिक प्रवृत्ति की होगी।

भाग्य से देश का भंडार भरपूर होगा।

शनि के स्वराशि में होकर लग्न में होने व दशम भाव पर उच्च दृष्टि पड़ने से व्यापार में तेजी देखने को मिलेगी।

विदेशी निवेश बढ़ेगा जिससे रोजगार के अवसर भी बढ़ेंगे।

महामारी पर नियंत्रण होगा जिससे लोगों में सुरक्षा की भावना बढ़ने से देश की जीडीपी में सुधार नजर आएगा।

कोई नई आपदा न आए, इसके लिए समय रहते उपाय करना होंगे।
26 जनवरी के सितारे, 12 राशियों के लिए


मेष : धन लाभ,
वृष : उन्नति,
मिथुन : तरक्की,
कर्क : कर्ज से मुक्ति,
सिंह : पदोन्नति,
कन्या : वांछित प्रगति,
तुला : शानदार दिन,
वृश्चिक : सम्मान, यश,
धनु : वैचारिक मतभेद,
मकर : कानूनी मामलों में विजय,
कुंभ : पराक्रम और सफलता,
मीन : कार्यभार में वृद्धि


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.