किसान परेड हिंसा: SHO वजीराबाद और SHO बुराड़ी गंभीर रूप से घायल, अबतक 300 से ज्यादा पुलिसकर्मी जख्मी

0
47

गणतंत्र दिवस पर किसान ट्रैक्टर रैली के दौरान कल हुई हिंसा में तीन सौ से ज्यादा पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. ये पुलिस कर्मी लाल किला, आईटीओ और नांगलौई समेत बाकी जगह पर हुई हिंसा के दौरान घायल हुए. बताया जा रहा है कि लाल किले पर हुई हिंसा को लेकर आज दिल्ली पुलिस प्रेस कॉन्फ्रेंस भी करेगी. दिल्ली पुलिस कमिश्नर अभी वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक कर रहे हैं.

वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक पुलिस कमिश्नर की बैठक जारी

बताया जा रहा है कि दिल्ली पुलिस के एसएचओ बुराड़ी के सर में चोट लगी है. एसएचओ वजीराबाद भी गंभीर रूप से घायल हैं और वह अस्पताल में भर्ती हैं. फिलहाल उनकी उंगलियों का ऑपरेशन किया जा रहा है. डीसीपी नार्थ के स्टाफ ऑफिसर को भी चोट लगी है. हिंसा के दौरान उत्तरी दिल्ली में 41 पुलिसकर्मी वहीं, पूर्वी दिल्ली में 34, पश्चिमी दिल्ली में 27, द्वारका में 32, बाहरी-उत्तरी जिले में 12, शाहदरा में 5, दक्षिण जिले में 4 और दिल्ली के बाहरी जिलों में75 पुलिसकर्मी घायल हुए.

अबतक 22 एफआईआर दर्ज
हिंसा के बाद राजधानी दिल्ली छावनी में तब्दील हो गई है. दिल्ली में पुलिस बल के साथ सीआरपीएफ की 15 कंपनियां तैनात की गई हैं. हिंसा के दौरान एक प्रदर्शनकारी किसान की मौत भी हो गई. पुलिस ने इस पूरे मामले के बाद 22 एफआईआर दर्ज की हैं.

कल लाल किला पर हुआ था बड़ा बवाल

बता दें कि कल गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों ने ट्रैक्टर रैली निकाली. रैली के दौरान किसान राजधानी दिल्ली में घुस गए और लाल किला पर जबरदस्त बवाल काटा. प्रदर्शनकारी किसानों ने लाला किले पर चढ़कर खालसा पंत का झंडा फहराया. इस दौरान पुलिस बल और प्रदर्शनकारी किसानों के बीच खूब झड़प देखने को मिली. प्रदर्शनकारी इतने उग्र हो गए कि वह पुलिस को मारने पर उतारू दिखे. हालांकि देर रात तक सभी प्रदर्शनकारियों को लाल किला से हटा दिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.