दरभंगा: शादी से ना-नुकुर कर रहे लड़के के घर लड़की वाले ही पहुंच गए बारात लेकर

0
139

आमतौर पर हर शादी में लड़का लड़की के घर बारात लेकर जाता है और उसके गले में वरमाला डालता है। लेकिन, दरभंगा की एक लड़की ने अपने प्रेमी को उसके ही आंगन में वरमाला पहना दी। घटना मधुबनी जिले के बिस्फी थाना क्षेत्र स्थित सिंधिया गांव की है। मंगलवार को यह अनोखी शादी लड़के के घर के आंगन में नाटकीय ढंग से संपन्न हुई, वह भी पंचायत के फैसले के बाद।

2 दिन पहले सोमवार रात कमतौल थाना क्षेत्र के टेकटार गांव निवासी एक लड़की अपने प्रेमी संग भागकर उसके घर (मधुबनी जिले के सिंघिया गांव) चली गई। लड़की के घर वालों को पता चला तो उन्होंने लड़के वालों से संपर्क किया। पहले तो लड़के वालों ने इस घटना से अनभिज्ञता जताई। कुछ देर बाद लड़के वालों ने लड़की के भाग कर आने की बात स्वीकार करते हुए उसे वापस उसके घर भेजने की बात कह डाली।

लड़की वाले 20-20 लोगों के साथ पहुंचे लड़के के घर

लड़की के चाचा नवल किशोर झा ने बताया कि लड़के वाले पहले तो उनकी लड़की को भगाने की घटना से ही इंकार कर रहे थे। कुछ देर बाद जब स्वीकार किया तो लड़की को वापस उसके घर भेजने की बात कहने लगे, जिससे हमलोग परेशान हो गए। इसके बाद गांव के 20-25 लोगों के साथ लड़के के घर पहुंचे। वहां पंचायत बुलाई गई। काफी देर तक इंकार करने के बाद आखिरकार लड़के वालों ने पंचायत के फैसले को स्वीकार कर लिया। सबकी सहमति से लड़की ने अपने प्रेमी के घर के आंगन में ही उसे वरमाला पहनाई।

लड़की के पिता मुंबई में रहते हैं, चाचा करते थे देखभाल

यह शादी पूरे इलाके में चर्चा का विषय बनी हुई है। दरअसल लड़की अपनी एक बहन के साथ अपने चाचा के घर रहती थी। उसकी मां का निधन हो गया है, जबकि उसके पिता मुंबई रहते हैं और उन्होंने दूसरी शादी कर लड़की को अपने से अलग कर रखा है। ऐसे में लड़की के अभिभावक के रूप में उसके चाचा ही उसकी देखभाल करते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.