राकेश टिकैत का भड़काऊ वीडियो आया सामने, किसानों से कहा लाठी-डंडे लेकर आना

0
51

दिल्ली में गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों के उपद्रव को देख रह कोई सिहर गया। अनियंत्रित किसान ट्रैक्टर और लाठी लेकर दिल्ली में फैल गए और लाल किले से लेकर आईटीओ तक जमकर उत्पात मचाया। लेकिन सवाल उठता है कि क्या यह पूरा दंगा किसानों का आक्रोश था या फिर एक सोची समझी साजिश? 

दंगों की साजिश को ध्यान में रखते हुए पुलिस हर वीडियो की जांच कर रही है। इस बीच किसान नेता राकेश टिकैत का एक वीडियो सामने आया है। ये वीडियो 21 जनवरी का है। वीडियो में टिकैत ने किसानों को लाठी-डंडे लाने की बात की है। लाठी-डंडे लाने की बात करने के बाद टिकैत कह रहे हैं कि समझ जाना। आखिर वो किसानों को क्या समझाना चाहते हैं। 

  1. YOU ARE AT:
  2. Hindi News
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. Video: राकेश टिकैत का भड़काऊ वीडियो आया सामने, किसानों से कहा लाठी-डंडे लेकर आना

Video: राकेश टिकैत का भड़काऊ वीडियो आया सामने, किसानों से कहा लाठी-डंडे लेकर आना

इस बीच किसान नेता राकेश टिकैत का एक वीडियो सामने आया है। ये वीडियो 21 जनवरी का है।

IndiaTV Hindi Desk
Published on: January 27, 2021 10:43 IST

Rakesh Tikait- India TV Hindi
Image Source : INDIA TVRakesh Tikait

दिल्ली में गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों के उपद्रव को देख रह कोई सिहर गया। अनियंत्रित किसान ट्रैक्टर और लाठी लेकर दिल्ली में फैल गए और लाल किले से लेकर आईटीओ तक जमकर उत्पात मचाया। लेकिन सवाल उठता है कि क्या यह पूरा दंगा किसानों का आक्रोश था या फिर एक सोची समझी साजिश? 

दंगों की साजिश को ध्यान में रखते हुए पुलिस हर वीडियो की जांच कर रही है। इस बीच किसान नेता राकेश टिकैत का एक वीडियो सामने आया है। ये वीडियो 21 जनवरी का है। वीडियो में टिकैत ने किसानों को लाठी-डंडे लाने की बात की है। लाठी-डंडे लाने की बात करने के बाद टिकैत कह रहे हैं कि समझ जाना। आखिर वो किसानों को क्या समझाना चाहते हैं। Advertisementhttps://imasdk.googleapis.com/js/core/bridge3.436.0_en.html#goog_2009029691Learn MorePowered By PLAYSTREAM

गणतंत्र दिवस पर पहली बार अंधेरे में डूबा लाल किला, पुलिस ने काटी बिजली

पहले आप ये वीडियो देखिए 

क्या कह रहे हैं टिकैत

वीडियो में साफ पता चल रहा है कि किसानों के नेता टिकैत किसानों से कह रहे हैं कि यहां आओगे, बातचीत चल ही रही है। ठीक-ठाक आना, 5-7 दिन का राशन-पानी लेकर आओ। सरकार मान नहीं रही है। सरकार टेढ़ी पड़ रही है। झंडा भी ले आना, लाठी-डंडे भी अपने साथ रखना। समझ जाना सारी बात। ठीक है! झंडा तिरंगा भी लगा लेना उसमें। आ जाओ बस, अब बहुत हो गया।

टिकैत ने दी सफाई 

21 जनवरी के वायरल वीडियो पर किसान नेता राकेश टिकैत के दंगा फैलाने वाले बयान पर बवाल बढ़ा तो उन्होंने सफाई दी। लेकिन उनकी ये सफाई किसी को हजम नहीं होगी टिकैत ने कहा- मैंने, झंडा लगाने के लिए किसानों से अपना डंडा लाने को कहा था। बिना डंडा के कैसे लगता झंडा। टिकैट ने ये भी कहा- हिंसा करने वालों को आंदोलन छोड़ना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.