Patna: सुशील मोदी बोले- मानव शृंखला बनाने की राजद की जिद दुर्भाग्यपूर्ण

0
79

भाजपा सांसद सुशील कुमार मोदी ने कहा है कि जनता में अब कथित किसान संगठनों और उनके समर्थक दलों के प्रति काफी गुस्सा है। दिल्ली-जयपुर हाइवे को खाली कराया जा चुका है। कुछ संगठनों ने आंदोलन से किनारा कर लिया है। इसके बावजूद बिहार में मानव शृंखला बनाने की राजद की जिद दुर्भाग्यपूर्ण है। असली किसान एनडीए के साथ हैं।

गुरुवार को ट्वीट कर सांसद ने कहा कि शांतिपूर्ण तरीके से असहमति और विरोध प्रकट करने की अनुमति देने के लिए गणतंत्र की महिमा है, लेकिन भारत के 72वें गणतंत्र दिवस पर उत्पात और हिंसा करने वालों ने गणतंत्र की उदारता को ही इस पर हमले का हथियार बनाकर अपना असली चेहरा दिखाया। कांग्रेस सहित 16 विपक्षी दलों ने पुलिसकर्मियों पर ट्रैक्टर और तलवार से हमला करने वाले पंजाब-हरियाणा के उत्पातियों की न कड़े शब्दों में निंदा की, न हिंसक हुए आंदोलन से अपना समर्थन वापस लिया। लेकिन उनके पक्ष में दिखने के लिए इन दलों ने राष्ट्रपति के अभिभाषण का बहिष्कार करने की घोषणा अवश्य कर दी।

बता दें कि तीनों कृषि कानूनों को रद्द करने, एमएसपी को कानूनी दर्जा देने और बिहार में एपीएमसी एक्ट लागू करने की मांग को लेकर महागठबंधन ने 30 जनवरी को मानव श्रृंखला बनाने की घोषणा की है।

इस कार्यक्रम में महागठबंधन के हिस्सा भाकपा (माले) के महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य भी भाग लेंगे। वह पटना में आयोजित मानव शृंखला में भाग लेंगे। इसके लिए माले महासचिव 29 जनवरी को पटना पहुंच रहे हैं। माले राज्य सचिव कुणाल ने दावा किया है कि 30 जनवरी को पूरे राज्य में ऐतिहासिक मानव शृंखला बनेगी। इसमें खेत मजदूरों, बटाईदार किसानों और आम नागरिकों की भागीदारी होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.