पटना: थानेदार और दारोगा समेत 3 पुलिसवाले सस्पेंड, VIP दलाल के साथ मिलकर छाप रहे थे नोट

0
169

बिहार में शराबबंदी कानून की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं. राजधानी पटना में सीएम नीतीश के शराबबंदी कानून को उनके ही वर्दीधारी ठेंगा दिखा रहे हैं. बिहार सरकार अबतक न जाने कितने दर्जन पुलिसवालों के ऊपर कार्रवाई कर चुकी है. लेकिन इसके बावजूद भी शराबबंदी को नाकाम साबित करने में कुछ लोग पूरी शिद्दत के साथ जुटे हुए है. ताजा मामला राजधानी पटना का है, जहां एक वीआईपी दलाल के साथ मिलकर नोटों की गड्डी छापने वाले 3 पुलिसवालों को आईजी संजय कुमार ने तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है. इनमें बुद्धा कॉलोनी का थानेदार और कदमकुआं थाने का एक दारोगा शामिल है.

बीते 29 जनवरी को एक ऑडियो सामने आया था, जिसमें एक वीआईपी दलाल सूरज मिश्रा एक शख्स 5 लाख रुपये लेकर कार, शराब और तस्कर को पटना पुलिस के चंगुल से आजाद कराने का सौदा कर रहा था. मामला सामने आने के बाद आईजी संजय कुमार ने जांच के आदेश दिए थे, जिसमें कुछ पुलिसवालों की संलिप्तता सामने आई है. इस मामले में आईजी संजय कुमार ने कडा एक्शन लेते हुए कदमकुआं थाने के तत्कालीन थानेदार निशिकांत निशी को सस्पेंड कर दिया है, जो फिलहाल बुद्धा कॉलोनी का थानेदार है. इसके अलावा कदमकुआं थाने का दारोगा राकेश और सिपाही अरुण को भी निलंबित कर दिया गया है. इस मामले में टाउन डीएसपी सुरेश प्रसाद को जांच की जिम्मेदारी दी गई थी. इसके साथ ही रेंज आइजी संजय कुमार ने एसएसपी को पूरे मामले की रिपोर्ट भेजने का भी निर्देश दिया था. डीएसपी की जांच के बाद ही महानिरीक्षक ने बड़ा  एक्शन लिया है.

दलाल सूरज मिश्रा का ऑडियो वायरल होने के दूसरे ही दिन 31 जनवरी को पटना पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया था. दरअसल एक शख्स और सूरज मिश्रा  के बीच बातचीत का ऑडियो सामने आया था. ऑडियो में जो शख्स थाने से गाड़ी, पैसा और तस्करों को छुड़ाने का दावा कर रहा था, उसका नाम सूरज मिश्रा ही था. कदमकुआं की पुलिस ने इसे गिरफ्तार कर लिया और थानेदार ने मीडिया को यह बात बताई है कि वायरल ऑडियो में कोई और नहीं बल्कि सूरज मिश्रा ही थाना से गाड़ी, शराब और तस्कर को छुड़ाने की डील कर रहा था. थानेदार ने बताया था कि हालांकि इसमें कौन पुलिसकर्मी शामिल हैं, इसकी जांच टाउन डीएसपी सुरेश प्रसाद कर रहे हैं.

हैरानी की बात तो ये है कि ये सूरज मिश्रा कोई आम दलाल नहीं है. बल्कि इसका फेसबुक प्रोफाइल, प्रोफाइल न रहकर हाईप्रोफाइल निकला है. इसके फेसबुक पर डीआईजी मनु महाराज से लेकर बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी के साथ तस्वीरें उपलब्ध हैं. इतना ही नहीं केंद्रीय मंत्री और बीजेपी सांसद रविशंकर प्रसाद, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, बीजेपी एसपी मनोज तिवारी, पूर्व केंद्रीय मंत्री और एमपी रामकृपाल यादव, पूर्व मंत्री और विधायक प्रेम कुमार के साथ तस्वीरें हैं. इतना ही नहीं भोजपुरी अभिनेता पवन सिंह और खेसारी लाल यादव के साथ भी इसने अपना फोटो लोगों के सामने धाक जमाने के लिए सोशल मीडिया में डाला है.

दावा कहा जा रहा है कि सूरज मिश्रा का कदमकुआं थाने के बड़े साहब से लेकर छोटे सिपाहियों तक उठना-बैठना है. वायरल ऑडियो में दलाल 5 लाख रुपये देने पर बरामद शराब के साथ बरामद कार और पकड़े गये दो तस्करों को छोड़ने का दावा कर रहा था. जबकि सामने वाला शख्स इस मामले को एक पेटी में सेट करने की जिद किया. इन दोनों के बीच हुई बातचीत के ऑडियो सामने आये. दूसरे ऑडियो में दलाल गाली गलौज भी कर रहा है. वह गाड़ी और माल यानी कि शराब छोड़ने के लिए 2.5 लाख में डील को फाइनल करने की बात कहता है. लेकिन शराब माफिया की ओर से बात कर रहा व्यक्ति केवल गाड़ी छोड़ने के लिए 1.20 लाख देने काे तैयार हाे जाता है पर इतने कम में साैदा तय नहीं हाेता है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक कि कदमकुआं पुलिस ने 28 दिसंबर को एक सफारी गाड़ी राजेंद्रनगर इलाके से पकड़ी थी. गाड़ी से शराब बरामद की गयी थी और भागलपुर निवासी प्रियेश कुमार और संजय पासवान काे गिरफ्तार किया गया था. इसके साथ ही गाड़ी के मालिक के रूप में आर्यन यादव का नाम सामने आया था. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.