दरभंगा सोना लूटकांड में दो और अपराधी गिरफ्तार, पुलिस ने दिल्ली से प्रिंस और गोलू को दबोचा

0
38

दरभंगा के नगर थाना क्षेत्र के बड़ा बाजार में बीते साल 9 दिसंबर को अलंकार ज्वेलर्स में हुए सोना लूटकांड में दरभंगा पुलिस अब जाकर सफलता की ओर बढ़ती दिख रही है. दरभंगा पुलिस ने एसटीएफ की मदद से कई जिलों में छापेमारी की. वहीं गुप्त सूचना के आधार पर दिल्ली में छापेमारी कर सीसीटीवी में दिख रहे  प्रिंस और गोलू पासवान को गिरफ्तार किया है.

बताया जा रहा है कि समस्तीपुर के प्रिंस और गोलू पासवान को बिहार एसटीएफ और दरभंगा पुलिस ने संयुक्त छापेमारी कर गिरफ्तार किया है. बता दें कि लूट कांड के बाद दोनों कुछ दिनों तक गांव में छिपकर रह रहे थे फिर भागकर दिल्ली में नाम बदलकर रहने लगे थे. गौरतलब है कि जिले के सबसे बड़े लूट कांड ने दरभंगा पुलिस की कार्रवाई पर सवालिया निशान खड़े किए हुए थे. जांच को तेजी से आगे बढ़ाते हुए दरभंगा पुलिस लगातार कई जिलों सहित आसपास के राज्यों में गुप्त सूचना पर छापेमारी कर रही थी. इसी दौरान लगभग दर्जनों से ज्यादा लोगों को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की गई थी और उनके द्वारा बताए गए ठिकानों पर दिन रात आधुनिक यंत्रों से छापेमारी की जा रही थी. 

वहीं दरभंगा एसएसपी ने खबर की पुष्टि करते हुए बताया कि दिल्ली में करीब 1 हफ्ते से एसटीएफ और जिला पुलिस कैंप कर रही थी. 2 लोग गोलू पासवान और प्रिंस की गिरफ्तारी में सफलता हासिल हुई है. हालांकि इसके पहले प्रिंस के घर से काफी मात्रा में सोना और पैसा की बरामदगी हुई थी और समस्तीपुर से इस कांड में संलिप्त लोगों को पकड़ा जा चुका था. उसके बाद आगे की कार्रवाई करते हुए प्रिंस और गोलू को गिरफ्तार किया गया. जिसमें इन लोगों ने पूछताछ के क्रम में बहुत सारी जानकारियां दी.

इन दोनों ने पूछताछ में बताया कि कैसे-कैसे इस घटना के लिए प्लान बनाया गया था और कैसे इस घटना को अंजाम दिया गया. वहीं इसमें लाइनर के लिए मुख्य रूप से विकास झा का नाम ही बताया है. विकास झा ने ही लाइन रविंदर साहनी को दी थी. उसके बाद रविंदर सहनी ने इनसभी लोगों को अरेंज किया था. इसमें घटना की योजना बनाने में पहले ही 22 लोग जेल जा चुके हैं. वहीं अभी भी इस कांड के 6-7 जो मुख्य अभियुक्त हैं, वो बाहर हैं जिसको लेकर लगातार छापेमारी जारी है और जल्द ही उनकी गिरफ्तारी भी कर ली जाएगी. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.