दादर नगर हवेली के सांसद मोहन डेलकर की मौत या आत्महत्या? जानें पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में क्या आया सामने

0
29

दादर और नगर हवेली से सांसद मोहन सांझीभाई डेलकर की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में उनकी मौत का कारण साफ हो गया है। रिपोर्ट के मुताबिक, सांसद मोहन की मौत फांसी पर लटकने के बाद दम घुटने से हुई। बता दें कि सात बार के सांसद मोहन का शव सोमवार को मुंबई के मरीन ड्राइव स्थित एक होटल में मिला था।

एक न्यूज़ चैनल के मुताबिक, पुलिस ने बताया कि डेलकर 15 पन्नों का एक सुसाइड नोट छोड़ कर गए हैं जिसे गुजराती भाषा में लिखा है। यह चिट्ठी उन्होंने अपने आधिकारिक लेटरहेड पर लिखी है। हालांकि, चिट्ठी में लिखा क्या है इसपर पुलिस ने अभी चुप्पी साध रखी है।

खबर के मुताबिक, सांसद ने संभवतः सोमवार सुबह आत्महत्या की। बता दें कि सोमवाप दोपहर 1 बजकर 50 मिनट पर सांसद मोहन के ड्राइवर और बॉडीगार्ड ने सबसे पहले उनका शव देखा था। पुलिस को अभी ड्राइवर और बॉडीगार्ड के बयान भी रिकॉर्ड करने हैं।

सांसद मोहन का शव मंगलवार को पोस्टमॉर्टम के बाद उनके रिश्तेदारों को सौंप दिया गया। मौत के सही कारण का पता लगाने के लिए उनकी विसरा को फॉरेंसिक जांच के लिए सुरक्षित रख लिया गया है। 

खबर के मुताबिक, डेलकर के ड्राइवर ने जब सोमवार को होटल कमरे का दरवाजा खटखटाया तो उसे कोई जवाब नहीं मिला। इसके बाद ड्राइवर ने डेलकर को फोन किया जो किसी ने उठाया नहीं। इसके बाद ड्राइवर ने दादर और नगर हवेली में डेलकर के परिवार को इस बारे में जानकारी दी। परिवार ने ड्राइवर को होटल स्टाफ से कहकर कमरा खुलवाने को कहा। हालांकि, दरवाजा अंदर से बंद होने की वजह से खुल नहीं सका।

किसी तरह ड्राइवर कमरे की बालकनी से अंदर घुसा तो उसे सांसद का शव फांसी से लटका मिला। उन्होंने शॉल से फांसी लगाई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.