INDvENG Day-Night Test Day-1: भारत के नाम रहा पहला दिन, खेल खत्म होने तक स्कोर 99/3

0
39

इंग्लैंड के खिलाफ डे-नाइट टेस्ट का पहला दिन टीम इंडिया के नाम रहा। दुनिया के सबसे बड़े क्रिकेट स्टेडियम मोटेरा में भारतीय टीम 3 स्पिनर्स के साथ उतरी। उसकी यह पॉलिसी पहले दिन कामयाब रही। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी इंग्लैंड को अक्षर पटेल और रविचंद्रन अश्विन ने 9 विकेट लेकर 112 रन पर समेट दिया। अक्षर को 6 और अश्विन को 3 विकेट मिले।

इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरी टीम इंडिया ने दिन खत्म होने तक 3 विकेट गंवाकर 99 रन बना लिए हैं। इंग्लैंड टीम को अब भी 13 रन की बढ़त हासिल है। रोहित शर्मा 82 बॉल पर 57 रन बनाकर नाबाद हैं। रोहित के करियर की यह 12वीं टेस्ट फिफ्टी है। उनके साथ अजिंक्य रहाणे एक रन बनाकर नाबाद हैं।

रोहित-कोहली ने टीम को संभाला
पहली पारी में सधी शुरुआत के बाद टीम इंडिया ने लगातार 2 ओवर (15वें और 16वें) में 2 विकेट गंवा दिए। ओपनर शुभमन गिल 11 रन बनाकर आउट हुए। जोफ्रा आर्चर की बॉल पर जैक क्राउली ने उनका विकेट लिया। इसके बाद चेतेश्वर पुजारा खाता भी नहीं खोल सके और स्पिनर जैक लीच ने उन्हें LBW किया।

ओपनर रोहित शर्मा ने एक छोर संभाले रखा। उन्होंने विराट कोहली के साथ तीसरे विकेट के लिए 100 बॉल पर 64 रन की पार्टनरशिप कर टीम को संभाला। कोहली 27 रन बनाकर जैक लीच की बॉल पर क्लीन बोल्ड हो गए।

स्टोक्स ने गेंद पर लार लगाई, अंपायर ने किया सैनिटाइज
इंग्लैंड के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स भारत की पारी के दौरान गेंद पर लार लगाते हुए देखे गए। कोरोना के कारण अभी गेंद पर लार लगाने पर रोक है। यह घटना भारतीय पारी के 12वें ओवर के दौरान हुई। स्टोक्स की यह हरकत थोड़ी हैरानी भरी कही जा सकती है, क्योंकि वे सीरीज के अन्य मैच भी खेले थे और उन्हें नियम की जानकारी भी थी। जब स्टोक्स ने गेंद पर लार लगाई तो अंपायर नितिन मेनन ने उनसे बात की। फिर गेंद को सैनिटाइज कर खेल में वापस लाया गया।

दो बार चेतावनी का प्रावधान
ICC रेगुलेशंस के अनुसार गेंद पर लार लगाने वाली टीम को दो बार चेतावनी दी जाएगी। अगर तीसरी बार भी ऐसी हरकत हुई तो बैटिंग टीम को पांच पेनल्टी रन मिलेंगे।

7 इंग्लिश बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा नहीं छू सके
1.32 लाख दर्शकों की क्षमता वाले नए बने इस स्टेडियम में पहली बार इंटरनेशनल मैच खेला जा रहा है। पहली पारी में इंग्लैंड के लिए 7 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा नहीं छू सके। इनमें जॉनी बेयरस्टो और ओपनर डॉम सिबली शून्य पर आउट हुए। भारत में पहली बार टेस्ट खेल रहे जैक क्राउली ने सबसे ज्यादा 53 रन बनाए।

करियर का दूसरा टेस्ट खेल रहे स्पिनर अक्षर पटेल ने 6 विकेट लिए। इनके अलावा रविचंद्रन अश्विन ने 3 विकेट लिए। अक्षर ने लगातार दूसरी पारी में 5 या उससे ज्यादा विकेट झटके। पिछले टेस्ट की दूसरी पारी में उन्होंने 5 विकेट लिए थे।

इंग्लैंड की खराब शुरुआत रही
इंग्लैंड की शुरूआत बेहद खराब रही। टीम ने 27 रन पर ही 2 विकेट गंवा दिए थे। 100वां टेस्ट खेल रहे तेज गेंदबाज इशांत शर्मा ने इंग्लैंड को पहला झटका दिया था। ओपनर डॉम सिबली 1 रन बनाकर आउट हुए। इशांत की बॉल पर स्लिप में रोहित शर्मा ने उनका कैच लिया।

अक्षर ने 6 विकेट लेकर मिडिल ऑर्डर ढहाया
स्पिनर अक्षर पटेल ने 6 विकेट लेकर इंग्लैंड के मिडिल ऑर्डर को ढहाया। उन्होंने मैच के 7वें ओवर में इंग्लिश टीम को दूसरा झटका दिया। उन्होंने जॉनी बेयरस्टो को LBW किया। अक्षर ने जैक क्राउली को 53 रन पर LBW किया। क्राउली के करियर की यह चौथी टेस्ट फिफ्टी रही। भारतीय स्पिनर ने बेन स्टोक्स (6) को भी LBW किया। उन्होंने जोफ्रा आर्चर और स्टुअर्ट ब्रॉड को आउट किया। आखिर में बेन फोक्स को क्लीन बोल्ड किया।

अश्विन ने 3 विकेट लिए
स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने 3 विकेट लिए। उन्होंने इंग्लिश टीम को तीसरा झटका देते हुए कप्तान जो रूट को 17 रन पर LBW किया। अश्विन ने ओली पोप (1 रन) को क्लीन बोल्ड किया। इसके बाद इंग्लैंड को 8वां झटका देते हुए जैक लीच को कैच आउट कराया।

इंडिया टीम में 2 और इंग्लैंड टीम में 4 बदलाव

  • इंग्लैंड टीम में 4 बदलाव किए गए। रोरी बर्न्स, डेन लॉरेंस, ओली स्टोन और मोइन अली को प्लेइंग इलेवन से बाहर किया गया। उनकी जगह जेम्स एंडरसन, जोफ्रा आर्चर, जॉनी बेयरस्टो और जैक क्राउली की वापसी हुई।
  • टीम इंडिया में कप्तान विराट कोहली ने प्लेइंग इलेवन में 2 बदलाव किए हैं। तेज गेंदबाज मोहम्मद सिराज की जगह जसप्रीत बुमराह की वापसी हुई। साथ ही स्पिनर कुलदीप यादव की जगह वॉशिंगटन सुंदर को मौका मिला।

दोनों टीमें अलग तरह से पिच को पढ़ रहीं
मैच में दोनों टीम पिच को अलग-अलग तरीके से पढ़ रही हैं। इंग्लिश टीम ने तेज गेंदबाजी पर जोर दिया है, जबकि भारतीय टीम का प्लेइंग इलेवन सिलेक्शन कहता है कि उन्हें विश्वास है कि पिच जल्द ही टूटने लगेगी और स्पिनर्स को मदद मिलेगी। टीम इंडिया मैच में 3 स्पेशलिस्ट स्पिनर अश्विन, अक्षर और सुंदर के साथ उतरी है। जबकि इंग्लिश टीम ने प्लेइंग इलेवन में एकमात्र स्पिनर जैक लीच को शामिल किया है।

3 तरह की बॉल से डे-नाइट टेस्ट खेलने वाली इंग्लैंड अकेली टीम

इंग्लैंड टेस्ट क्रिकेट में इस्तेमाल होने वाली 3 तरह की गेंदों SG, कूकाबुरा और ड्यूक से डे-नाइट टेस्ट खेलने वाली दुनिया की पहली टीम है। भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका और वेस्टइंडीज ने 2, जबकि ऑस्ट्रेलिया, न्यूजीलैंड, जिम्बाब्वे और साउथ अफ्रीका ने सिर्फ 1 ही तरह की गेंद से टेस्ट खेला है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.