भारत में महामारी के बाद और अधिक हुई तकनीकी क्षेत्र में भर्ती : रिपोर्ट

0
51

अप्रैल 2020 और जनवरी 2021 के बीच तकनीकी क्षेत्र से जुड़ी नौकरियों के लिए भर्ती महामारी से पहले के स्तर से लगातार ऊपर बनी हुई है। इसमें नवंबर 2020 में 17 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है। जॉब साइट इंडिड पर टेक जॉब पोस्टिंग के एक अध्ययन में यह आंकड़े सामने आए हैं।

इंडिड के आंकड़ों के अनुसार, पिछले एक साल के मुकाबले जनवरी 2021 में भारत में टेक जॉब पोस्टिंग में 13 प्रतिशत की बढ़ोतरी दर्ज की गई है।

इंडिड ने भारत में सबसे तेजी से बढ़ती तकनीकी भूमिकाओं का भी आकलन किया और पाया कि तकनीकी या टेक क्षेत्र से जुड़ी कंपनियों ने 2020-2021 के बीच इस क्षेत्र से जुड़ी भूमिकाओं के लिए सक्रिय रूप से भर्ती की है।

तकनीकी भूमिकाओं के लिए मुख्य रूप से आईटी, आईटी सक्षम सेवाओं (आईटीईएस), वित्तीय सेवाओं, ई-कॉमर्स और परामर्श क्षेत्रों का योगदान सबसे अधिक रहा।

इंडिड डॉट कॉम के प्रबंध निदेशक (एमडी) शशि कुमार ने एक बयान में कहा, महामारी की आवश्यकता के साथ दूरस्थ कार्य (रिमोट वकिर्ंग) और अधिक प्रौद्योगिकी-आधारित व्यवसाय संचालन के चलते संगठनों को इस परिवर्तन का समर्थन करने के लिए अपनी टेक हायरिंग (तकनीकी विशेषज्ञों की भर्ती) करनी पड़ी।

उन्होंने कहा, यह हमारे डेटा में परिलक्षित होता है, जो एक स्थिर ऊपर की ओर बदलाव को दशार्ता है। हम मानते हैं कि डिजिटलीकरण और आभासी (वर्चुअल) संचालन निकट भविष्य में वृद्धि जारी रखेंगे, जिससे पूरे सेक्टर में तकनीक से संबंधित नौकरियों की मजबूत मांग होगी।

साइट से पता चला है कि 2020-2021 में भारत में शीर्ष भुगतान करने वाली तकनीकी भूमिकाओं वाले तकनीकी लीड, क्लाउड इंजीनियर, वरिष्ठ सॉफ्टवेयर इंजीनियर और फुल स्टैक डेवलपर शामिल हैं।

इसके अलावा आंकड़ों से यह भी पता चला है कि भारत में सबसे तेजी से उभरती तकनीकी नौकरियों में एप्लिकेशन डेवलपर, आईटी सुरक्षा विशेषज्ञ, सेल्सफोर्स डेवलपर, साइट विश्वसनीयता इंजीनियर और क्लाउड इंजीनियर शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.