15 मार्च से दो दिन तक बंद रहेंगे बैंक, निजीकरण के विरोध में नौ संगठनों ने किया ऐलान

0
44

बैंक कर्मचारियों के नौ संगठनों का शीर्ष निकाय यूनाइटेड फोरम ऑफ बैंक यूनियन्स ने सार्वजिक क्षेत्र के दो बैंकों के प्रस्तावित निजीकरण के विरोध में मंगलवार को 15 मार्च से दो दिन की हड़ताल का आह्वान किया. जिसके बाद बिहार में भी 15 मार्च और 16 मार्च को बैंक बंद रखेंगे.

हड़ताल के कारण सूबे की 7620 बैंक शाखाओं में दो दिन ताला लटका रहेगा. वहीं मार्च के दूसरे शनिवार और रविवार होने के कारण 13 और 14 मार्च को भी बैंक में छुट्टी रहेगी. इसका मतलब है कि लगातार चार दिन तक बैंक रहेंगे, जिसके कारण लोगों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा.

बता दें कि  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले सप्ताह अपने बजट भाषण में विनिवेश कार्यक्रम के तहत सार्वजनिक क्षेत्र के दो बैंकों के निजीकरण की घोषणा की.सरकार पहले ही 2019 में आईडीबीआई बैंक में अपनी बहुलांश हिस्सेदारी एलआईसी को बेचकर उसका निजीकरण कर चुकी है. इसके साथ ही पिछले चार साल में सार्वजनिक क्षेत्र के 14 बैंकों का विलय किया गया है.

ऑल इंडिया बैंक एम्प्लॉयज एसोसएिशन ने बैंकों के निजीकरण के सरकार के निर्णय का विरोध करते हुए दो दिन बैंक हड़ताल पर जाने का निर्णय लिया है. हालांकि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया और सहकारी बैंक के कर्मी बैंक में शामिल नहीं होंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.