बिहार में प्लबंर, इलेक्ट्रीशियन को मिलेगा प्रशिक्षण

0
59

    2021-03-06

बिहार में प्लबंर, इलेक्ट्रीशियन को मिलेगा प्रशिक्षण

 (15:16) 


पटना, 6 मार्च (आईएएनएस)| बिहार सरकार के सात निश्चयों में शामिल ‘हर घर नल का जल’ निश्चय के तहत लगाए गए मोटर, नल, पाइप, बिजली उपकरणों के रखरखाव के लिए अब सरकार प्लंबर और इलेक्ट्रीशियन को प्रशिक्षण दिया जाएगा। इससे स्थानीय लोगों को रोजगार भी उपलब्ध कराया जा सकेगा।

राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान परिसर, दीघा में बिहार कौशल विकास मिशन एवं प्रशिक्षण सह शोध केंद्र प्रांजल के बीच शुक्रवार को एक समझौता पत्र हस्तांतरित कर प्रशिक्षण कार्य प्रारम्भ किया गया। इस मौके पर राज्य के श्रम संसाधन मंत्री जिवेश कुमार और लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण विभाग के मंत्री रामप्रीत पासवान उपस्थित रहे।

श्रम संसाधन मंत्री कुमार ने बताया की इसका उद्देश्य राज्य के 56,079 से अधिक वाडरें में ‘हर घर नल का जल’ निश्चय के अंतर्गत जलापूर्ति योजनाएं संचालित हैं।

उन्होंने कहा कि ‘हर घर नल का जल’ निश्चय के तहत जलापूर्ति योजनाओं के बेहतर संचालन एवं रख-रखाव के लिए भविष्य में कुशल कार्यबल की आवश्यकता को देखते हुए, मुख्य रूप से प्लम्बर, इलेक्ट्रीशियन एवं पम्प ऑपरेटर को प्रशिक्षित करने का निर्णय लिया गया है।

लोक स्वास्थ्य अभियंत्रण मंत्री पासवान ने बताया कि विभाग की योजना के अनुसार जलापूर्ति योजना के निर्माण और 3 माह के ट्रायल रन के बाद अगले 60 माह की योजनाओं के संचालन और रख-रखाव निर्माणकर्ता संवदेक या एजेंसी के द्वारा किया जाता है।

श्रम संसाधन विभाग के सचिव मिहिर कुमार सिंह ने बताया कि बिहार कौशल विकास मिशन, श्रम संसाधन विभाग के नियंत्रणाधीन सरकारी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थानों के माध्यम से इन प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण, प्रदेश में बेहतर मानव संसाधन की पूर्ति के उद्देश्य से कराएगा।

उन्होंने कहा कि यह प्रशिक्षण 80 घंटा एवं एक मूल्यांकन दिवस का होगा। इस कार्यक्रम के तहत 44000 अभ्यर्थियों के लिए चरणबद्ध तरीके से 11 दिनों का प्रशिक्षण आयोजित किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.