आयकर विभाग ने दो व्यापारियों के 27 ठिकानों पर मारी रेड, 1000 करोड़ की अवैध कमाई का खुलासा

0
55

आयकर विभाग ने दक्षिण भारत के दो बड़े सोने चांदी के व्यापारियों के 27 ठिकानों पर छापेमारी की है. इसमें विभाग ने 1000 करोड़ की अवैध कमाई के पता लगने का दावा किया है. साथ ही लगभग सवा करोड़ रुपये नगद बरामद किए हैं. आरोप है कि ये दोनो ग्रुप कैश में लेनदेन कर बडे़ पैमाने पर आयकर चोरी कर रहे थे और उस पैसे को रियल इस्टेट मे लगा रहे थे.

27 ठिकानों पर की छापेमारी
आयकर विभाग के एक आला अधिकारी ने बताया कि विभाग को सूचना मिली थी कि चेन्नई के दो बडे़ व्यापारी अपनी आय को काफी कम कर के दिखा रहे हैं और कर चोरी के पैसे को दूसरे कामों मे लगा रहे हैं. सूचना के आधार पर विभाग ने मामले की आरंभिक जांच की और इन लोगों के चेन्नई, मुबंई, कोयम्बटूर, मदुरै, त्रिची, नल्लौर, त्रिशुर, जयपुर और इंदौर के 27 ठिकानों पर छापेमारी की.

बड़े पैमाने पर चल रही थी गड़बड़ियां
आयकर विभाग के मुताबिक इनमें जो व्यपारी बुलियन ट्रेडिंग का काम करता था उसके ठिकानों से बडे़ पैमाने पर बिना खाते की सेल पाई गई. इसके अलावा यह भी पता चला कि उक्त व्यापारी ने अवैध पैसा डमी बैंक खाते खुलवा कर जमा करवाए हुए थे. साथ ही उसके पास से ऐसे भी खाते पाए गए जिनमें एंडवांस पर्चैज दिखाई गई थी. पूछताछ के दौरान यह व्यापारी आयकर विभाग के सवालों का संतोषजनक जवाब नहीं दे पाया.

रियल स्टेट में लगा रहे थे पैसा
आयकर विभाग के मुताबिक चेन्नई मे जिस ज्वैलर्स के यहां छापा मारा गया वह दक्षिण भारत के बडे़ व्यापारियों मे से एक है. उसके खातों की जांच के दौरान पाया गया कि उसने लोकल फाइनेंशियर को बडे़ पैमाने पर लोन दिए हुए थे और उसका पैसा रियल इस्टेट प्रापर्टी मे भी लगा हुआ था. साथ ही खातों की जांच के दौरान बडे़ पैमाने पर सोने चांदी के आभूषणों की अवैध खरीद फरोख्त भी पाई गई.

मामलों की जांच जारी
आयकर विभाग के आला अधिकारी के मुताबिक इन दोनों के खातों में अनेक प्रकार की गड़बडियां पाई गईं हैं और विभाग को छापे के दौरान लगभग 1000 करोड़ रुपये अवैध आय का पता चला है. साथ ही इनके ठिकानों से लगभग सवा करोड़ रुपये की नगदी भी पाई गई है. दोनों मामलो मे जांच जारी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.