पटना: प्रदेश कार्यसमिति में BJP का नया मंत्र, पहले संगठन फिर सरकार

0
61

बीते विधानसभा चुनाव में बेहतर प्रदर्शन करने के बाद भारतीय जनता पार्टी का मनोबल बिहार में ऊपर है. 2 दिनों तक हुई प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में बीजेपी नेताओं ने तमाम मुद्दों पर चर्चा की है. इसमें राजनीतिक प्रस्ताव भी पास किया गया. राजनीतिक प्रस्ताव में बिहार को आत्मनिर्भर बनाने का संकल्प लिया गया और इसके लिए केंद्र की मोदी सरकार की तरफ से मिलने वाली सहायता को महत्वपूर्ण मानते हुए बिहार को विकसित बनाने के लिए काम करने की बात बीजेपी ने की है. प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में बीजेपी ने अपने नेताओं कार्यकर्ताओं को नया मंत्र दिया है. बीजेपी का स्पष्ट मानना है कि पहले संगठन फिर सरकार.

प्रदेश कार्यसमिति में इस बात पर चर्चा हुई कि संगठन को और ज्यादा धारदार और मजबूत कैसे बनाया जाए. पार्टी ने तय किया कि इसके लिए पंचायत चुनाव में संगठन से जुड़े लोग अगर मैदान में उतरते हैं तो उन्हें पार्टी समर्थन देगी. जिला परिषद जैसे पदों पर पार्टी समर्थित उम्मीदवारों की जीत सुनिश्चित हो, इसके लिए रणनीति बनाकर काम की जाएगी. पंचायत चुनाव में बीजेपी अपने संगठन को ग्रास रूट लेवल तक मजबूत बनाने का फार्मूला मान रही है. बीजेपी को ऐसा लगता है कि भले ही पंचायत चुनाव बिहार में राजनीतिक लाइन पर ना हो रहे हो लेकिन इसके बावजूद अगर संगठन से जुड़े लोगों को जीत मिलती है तो पार्टी और मजबूत बनेगी.

प्रदेश कार्यसमिति की बैठक खत्म होने के बाद प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर संजय जयसवाल ने बिहार के दोनों डिप्टी सीएम तारकेश्वर प्रसाद और रेणु देवी के साथ प्रेस वार्ता को संबोधित किया है. डॉक्टर संजय जयसवाल ने कल समिति में हुई चर्चा के बिंदुओं के बारे में जानकारी दी है. प्रदेश नेतृत्व का मानना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सपनों का बिहार तैयार हो रहा है और इसके लिए हर सेक्टर में विकास का काम तेज गति से आगे बढ़ रहा है. तार किशोर प्रसाद ने भी सरकार के कामकाज से लेकर संगठन तक में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को धन्यवाद देते हुए कहा कि हम आगे और बेहतर प्रदर्शन करेंगे. जबकि रेणु देवी ने साफ शब्दों में कह दिया कि सबसे पहले संगठन है और बाद में सरकार हल्की संगठन और सरकार के बीच तालमेल बैठाकर ही काम होता है. अगर पार्टी रहेगी तभी हम सरकार बना पाएंगे या बचा पाएंगे. बीजेपी नेताओं से गिरिराज सिंह के बयान को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने इस पर चुप्पी साध ली. रेणु देवी ने केवल इतना कहा कि उन्हें अधिकारियों का सहयोग मिला है तभी बिहार में विकास की योजनाएं आगे बढ़ रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.