बेतिया: सेविका बहाली के दौरान हंगामा,दो गुटों में मारपीट के बाद ICDS की सुपरवाइजर को लोगों ने बनाया बंधक

0
91

पश्चिम चंपारण में सेविका बहाली को लेकर ICDS की महिला सुपरवाइजर को बंधक बनाने का मामला सामने आया है. महिला पर्यवेक्षिका को लगभग 5 घंटे बंधक बनाकर रखने की बात सामने आ रही है. हालांकि एसडीओ की पहल पर उन्हें थानाध्यक्ष ने बंधक से मुक्त करा दिया है. मामले की जांच की जा रही है. घटना पश्चिम चंपारण के बेतिया की है, जहां बैरिया प्रखंड के वार्ड नंबर 7 में सेविका बहाली में हंगामा और मारपीट हुई है. वहीं बहाली करने पहुंची ICDS की सुपरवाइजर को भी लोगों ने बंधक बना लिया. बताया जा रहा है कि चनपटिया की एलएस दीपमाला को लगभग 5 घंटे तक बंधक बना कर रखा.  एसडीओ विद्यानाथ पासवान की पहल पर बैरिया बीडीओ और थानाध्यक्ष ने देर रातमहिला सुपरवाइजर को आजाद कराया.

इस घटना के संबंध में जानकारी मिली है कि चनपटिया की एलएस दीपमाला सेविका बहाली के लिए पहुंची थी लेकिन मेधा सूची को लेकर लोगो ने हंगामा शुरू कर दिया. इस बीच मेधा सूची में 1 नंबर और 6 नंबर वाले के बीच जमकर मारपीट हो गई. इस मारपीट में सूची मे 1 नंबर अभ्यर्थी के तीन समर्थक घायल हो गए. जिसके बाद दूसरे अभ्यर्थी के समर्थकों ने एलएस को घेरे लिया और लोग जबरन मेधा सूची में 6 नंबर वाले अभ्यर्थी को चयन पत्र देने की मांग करने लगे. 

इस बाबत जब बैरिया थानाध्यक्ष को फोन किया गया तो फोन पर थानाध्यक्ष ने बताया कि वे अभी काम मे लगे हुए हैं. बात नहीं कर सकते हैं. वहीं एलएस दीपमाला ने फ़ोन पर बताया कि 6 बजे से उन्हें बंधक बनाकर रखा गया था. बैरिया थाना की पुलिस आई थी लेकिन हंगामा देखकर वापस चली गयी. देर रात  रात 11 बजकर 15 मिनट पर उन्होंने एसडीओ सदर विद्यानाथ पासवान को फोन किया तो उन्होंने मदद की. एसडीओ के आदेश पर बीडीओ और थानाध्यक्ष गांव मे पहुंचे. बैरिया प्रमुख और बीडीओ की पहल पर उन्हें ग्रामीणों ने मुक्त किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.