समस्तीपुर: बदमाशों ने दिनदहाड़े हार्डवेयर दुकान पर बोला हमला, दुकानदार को जान से मारने की कोशिश की

0
102

विभूतिपुर थाना क्षेत्र के सिंघिया घाट में उस वक्त अफरा-तफरी मच गई जब दर्जनों की संख्या में आए बदमाशों ने दिनदहाड़े हार्डवेयर दुकान में हमला बोल दिया। घटना की पूरी तस्वीर CCTV कैमरे में कैद हो गयी लेकिन बदमाशों की पहचान ना अब तक हो पाई है और ना ही पुलिस की तरफ से कोई कार्रवाई ही की गई है। इस घटना के बाद से पीड़ित दुकानदार और उसका परिवार काफी दहशत में हैं और पुलिस के वरीय अधिकारियों से न्याय की गुहार लगा रहे हैं। हार्डवेयर दुकान पर बदमाशों ने अचानक हमला बोल दिया और इस दौरान जमकर तोड़फोड़ की। दिनदहाड़े 25 से 30 की संख्या में आए बदमाशों ने दुकान में घुसकर ना सिर्फ तोड़फोड़ की बल्कि दुकानदार को जान से मारने की भी कोशिश की। बदमाशों ने मेन दरवाजे को भी तोड़ने की कोशिश की लेकिन सफलता नहीं मिली। बदमाशों ने घर के बाहर रखी बाइक और साइकिल को क्षतिग्रस्त कर दिया।

पीड़ित ने जब शोर मचाया तब धमकी देते हुए बदमाश वहां से निकलने लगे लेकिन तभी उनकी नजर वहां लगी सीसीटीवी पर पड़ गई फिर क्या था बदमाशों ने डंडे से सीसीटीवी को भी तोड़ डाला। घटना समस्तीपुर के विभूतिपुर थाना क्षेत्र के सिंघिया घाट की है। हालांकि बदमाशों की यह करतूत सीसीटीवी में कैद हो गयी है पीड़ित ने कुछ लोगों की पहचान करते हुए विभूतिपुर थाने में शिकायत करते हुए कार्रवाई की मांग की लेकिन पुलिस की गिरफ्त से सभी आरोपी बाहर है। सीसीटीवी में दिख रहे बदमाशों में से अब तक किसी की भी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

पीड़ित राम जानिश कुमार ने बताया कि दुकान के पास स्थित कोचिंग में हमेशा किसी बात को लेकर विवाद हुआ करता हैै। आज भी दो गुटों के बीच लाठी डंडों के साथ मारपीट हो रही थी तभी दोनों को वे छुड़ाने गए। लेकिन दोनों को छुड़ाने के दौरान वे उल्टे ही उलझ पड़े और पिटाई कर दी। जिसके बाद पीड़ित अपने दुकान में चले गए जहां कुछ देर बाद दर्जनों लोग लाठी डंडे और ईंट पत्थर से लैश होकर पहुंचे और गाली-गलौच करते हुए दुकान में घुस गए। बदमाशों ने दुकान में घुसकर जमकर तोड़फोड़ की और विरोध करने पर मारपीट करते हुए गला दबाकर जान लेने की भी कोशिश की।

यही नहीं उपद्रवियों ने दुकान में रखे 10 हजार कैश और एक लाख के सामान लूट लिए। पीड़ित ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा कि घटना की शिकायत किए जाने के बाद भी विभूतिपुर थाने की पुलिस ने अब तक इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.