खगड़िया: शिक्षक को छात्रा से हुआ प्यार, शादी नहीं होने पर कोचिंग में आग लगाकर मर गए दोनों

0
60

बिहार के खगड़िया जिले से दिल दहला देने वाली एक घटना सामने आई है. दरअसल एक प्रेमी जोड़े ने आग लगाकर आत्महत्या कर ली है. दोनों की मौत को लेकर इलाके में काफी चर्चा हो रही है. क्योंकि दोनों के बीच प्रेमी-प्रेमिका के अलावा शिक्षक और छात्रा का भी रिश्ता था. फिलहाल पुलिस दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए हॉस्पिटल लेकर गई है. मामले की छानबीन की जा रही है.

घटना बिहार के खगड़िया जिले की है, जहां चित्रगुप्तनगर थाना से कुछ ही दूरी पर एक झोपड़ी में आग लगाकर प्रेमी जोड़े ने आत्महत्या कर ली है. बताया जा रहा है कि जिनकी मौत हुई है, वे दोनों कई दिनों से रिलेशनशिप में थे. मृतक की पहचान उत्तम राउत (20) और मृतका की पहचान लक्ष्मी कुमारी (17) के रूप में की गई है.

इस घटना के संबंध में जानकारी मिली है कि छात्रा लक्ष्मी की शादी 16 अप्रैल को होने वाली थी. लेकिन टीचर उत्तम उससे शादी रचाना चाहता था. क्योंकि दोनों एक दूसरे से बहुत प्यार करते थे. स्थानीय लोगों को भी इस बात की जानकारी थी कि दोनों रिलेशनशिप में थे. लेकिन लड़की के घरवाले इस रिश्ते के खिलाफ थे. इसलिए उन्होंने लक्ष्मी की शादी कहीं दूसरी जगह तय कर दी थी. 

बताया जा रहा है कि उत्तम बीए का छात्र था और वह खगड़िया में रहकर बच्चों को ट्यूशन पढ़ाता था. वह गोगरी गांव से आकर अपनी बड़ी बहन के साथ ही रहता था. उत्तम की बहन की झोपड़ी के सामने ही मंटू पोद्वार की झोपड़ी थी. मंटू पोद्वार की दूसरी बेटी लक्ष्मी ज्यादा पढ़ी-लिखी नहीं थी, वह भी उत्तम के पास ट्यूशन पढ़ती थी. मंटू पोद्वार के अन्य बच्चे भी उत्तम से ट्यूशन पढ़ाता था. 

घटना की सूचना पाकर सदर एसडीओ धर्मेन्द्र कुमार, प्रशिक्षु डीएसपी ज्योति कुमारी, थानाध्यक्ष सुबोध पंडित सहित अन्य अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि जिस झोपड़ी में दोनों ने आत्महत्या की है, उसी झोपड़ी में उत्तम बच्चों को ट्यूशन पढ़ाता था. उसी में कोचिंग चलाता था. पुलिस टीम घटना को लेकर पड़ताल में जुट गई है.

चित्रगुप्तनगर थानाध्यक्ष ने बताया कि दोनों के परिजनों के बयान के आधार पर केस दर्ज किया गया है. पुलिस ने दोनों शवों को कब्जे लेकर सदर अस्पताल भेज दिया और वहां दोनों के परिजनों की मौजूदगी में पोस्टमार्टम करवाया गया. लक्ष्मी के शव को उसके पिता मंटू पोद्वार और उत्तम के शव को उसके बड़े भाई दीपक राउत को सौंप दिया गया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.