सिपाही भर्ती में शातिर नकलची का कारनामा, परीक्षा में चोरी के लिए मास्क को बना लिया मोबाइल

0
47

कोरोना से बचाव के लिए लगाये जाने वाले मास्क को एक शातिर ने परीक्षा में नकल का जरिया बना लिया. परीक्षार्थी इतना शातिर था कि उसने मास्क को ही मोबाइल के माफिक यंत्र में तब्दील कर दिया था. रविवार को हो रही बिहार सिपाही भर्ती परीक्षा में परीक्षार्थी इसी मास्क के जरिये नकल कर रहा था. उसकी करतूत जब सामने आयी तो परीक्षा ले रहे वीक्षक से लेकर पुलिस तक हैरान रह गयी. नकलची परीक्षार्थी को गिरफ्तार कर लिया गया है.

मास्क को बना लिया इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस
दरअसल वैशाली जिले के बिदुपुर में पानापुर धर्मपुर स्थित हायर सेकेंडरी स्कूल केंद्र पर सिपाही भर्ती की लिखित परीक्षा ली जा रही थी. इसी दौरान एक परीक्षार्थी के पास से ऐसा मास्क पकडा गया जिसे हैरान करने वाला इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस बना दिया गया था. कोविड के खतरे को देखते हुए परीक्षार्थियों को मास्क पहन कर परीक्षा देने की छूट दी गयी थी. शातिर परीक्षार्थी मास्क को ही इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस में तब्दील कर उसके सहारे नकल कर रहा था. परीक्षा केंद्र पर प्रवेश से पहले चेकिंग हुई थी लेकिन उसमें उसका डिवाइस नहीं पकड़ा गया. हालांकि परीक्षा के दौरान उसकी हरकतों से वीक्षक ने उसे पकड लिया.

हायर सेकेंडरी स्कूल परीक्षा केंद्र के अधीक्षक छट्ठू यादव ने बताया कि परीक्षा की दूसरी पाली में स्कूल के कमरा नंबर 16 में तैनात टीचर आशुतोष कुमार औऱ मो. मुमताज को लगा कि एक परीक्षार्थी बात करते हुए कॉपी में लिख रहा है. हालांकि दूसरे परीक्षार्थी उससे दूर बैठे थे. फिर वह किससे बात कर रहा था इसे लेकर निगरानी के लिए तैनात शिक्षकों को हैरानी हुई. उन्होंने उस परीक्षार्थी की फिर से चेकिंग की. उसका मास्क निकाल कर देखा गया तो पाया गया कि वह मास्क नहीं इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस था. पकड़ा गया परीक्षार्थी सारण के भथराहा गांव का विशाल कुमार है. जिसका रॉल नंबर 4122140374 है. उसे पुलिस के हवाले कर दिया गया.

मोबाइल की तरह काम कर रहा था मास्क
पुलिस ने मास्क की पड़ताल की तो उसके अंदर लगे यंत्रों के देख कर चौंक गयी. मास्क के अंदर बैट्री, मोबाइल बोर्ड, सिम, चार्जर पिन सब लगा हुआ था. ये सभी आपस में कनेक्टेड थे. मास्क से एक पतला तार निकला था जो काम में लगे ब्लूटूथ से जुडा हुआ था. तार को भी मास्क के फीते के साथ जोड़ा गया था ताकि किसी को तार नजर नहीं आये. ये डिवाइस पूरी तरह से स्मार्ट फोन की तरह काम कर रहा था. 

बेहद शातिराना तरीके बनाया डिवाइस
जानकारों के मुताबिक मास्क में मोबाइल के सारे पार्ट्स को खोल कर सेट कर दिया गया था. मोबाइल का सिर्फ कवर नहीं था बाकी सारे पार्ट्स उस मास्क के अंदर सेट कर दिये गये थे. मोबाइल की बैटरी, मोबाइल का बोर्ड सब टेप के सहारे मास्क के भीतर चिपका दिया गया था. मास्क से कॉपर तार को इस तरह से जोडा गया था कि वह ब्लूटूथ की तरह काम करे. ये काम किसी बेहद शातिर इंजीनियर का लग रहा था. जानकारों के मुताबिक किसी सामान्य आदमी के वश की बात नहीं है कि वह ऐसा यंत्र बना ले.

उधर बिदुपुर थाना पुलिस ने आरोपी परीक्षार्थी को गिरफ्तार कर लिया है. उसे जेल भेजने की तैयारी की जा रही थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.