बिहार उद्यमिता सम्मेलन में बोले कृषि मंत्री, ‘कृषि बेरोजगारी दूर करने का सबसे सरल उपाय’

0
35

 बिहार के कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि कृषि बेरोजगार दूर करने के सबसे सरल उपाय है। उन्होंने कहा कि तकनीक का उपयोग कर हम कृषि के क्षेत्र में काफी आगे बढ़ सकते हैं।

कृषि मंत्री ने कहा कि सरकार मखाना, चाय, टमाटर की खेती को बढ़ावा देने के लिए प्रयास कर रही है।

कृषि मंत्री सिंह यहां आठवें बिहार उद्यमिता सम्मेलन में बोलते हुए कहा कि प्रत्येक महीने कृषि उद्यमी और कृषि स्टार्टअप की बैठक होनी चाहिए, जिससे नई तकनीक के बारे में जानकारी मिल सके और उसका सही उपयोग हो सके।

मंत्री ने एफपीओ बनाकर कृषि को बेहतर तरीके से रोजगार का जरिया बनाने पर जोर देते हुए कहा कि कृषि बेरोजगारी दूर करने का सबसे सरल उपाय है।

बिहार उद्यमी संघ द्वारा आयोजित बिहार उद्यमिता सम्मेलन में लोग ऑनलाइन भी जुड़ें। सम्मेलन में देश और विदेश के 500 से ज्यादा लोग जुड़ें।

इस सम्मेलन में भाग लते हुए उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने उद्यमी संघ को आंठवें उद्यमी सम्मेलन आयोजित करने पर बधाई देते हुए कहा कि सरकार संघ को हरसंभव मदद करेगी।

उन्होंने बिहार को महावीर, महात्मा बुद्घ की भूमि बताते हुए लोगों से निरंतर कोशिश करते रहने की अपील की। उन्होंने कहा कि बिहार के युवा देश में प्रत्येक क्षेत्र में आगे हैं और उनके अंदर उद्यमी संघ उद्यमिता की लौ जलाने का काम कर रही है। इसका परिणाम अब देखने को मिल रहा है।

उन्होंने कहा कि ऐसे आयोजनों से निवेशकों की संख्या बढ़ती है और आज बिहार की ओर निवेश देख रहे हैं।

पूर्व केंद्रीय मंत्री संजय पासवान ने लोगों से स्टार्टअप से सीख लेने की जरूरत बताते हुए लोगों को व्यवसाय करने का मंत्र दिया।

उद्यमी संघ के महासचिव अभिषेक सिंह ने बताया कि सम्मेलन में सफल उद्यमियों को पुरस्कृत भी किया गया। पुरस्कृत उद्यमियों में राजेश कुमार, ऋषि रंजन और भुव सरोगी शामिल हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.