मुंबई में ‘कोरोना’ का हाहाकार, एक दिन में सामने आए 5000+ मामले, लॉकडाउन की आहट!

0
42

नागपुर में मिला कोरोना वायरस का डबल म्यूटेंट वेरिएंट

मुंबई में लगातार कोरोना मामलों संख्या बढ़ती ही जा रही है बताते हैं कि मुंबई में बुधवार को कोरोना के एक दिन में पांच हजार से ज्यादा (5185) मामले सामने आए।

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई कोरोना का गढ़ बनता जा रही है, स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि महाराष्ट्र, पंजाब, कर्नाटक, छत्तीसगढ़ और गुजरात में कोविड-19 के दैनिक मामलों में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है और संक्रमण के कुल नए मामलों में इन राज्यों की हिस्सेदारी 77.44 प्रतिशत है। आंकड़ों के मुताबिक महाराष्ट्र में एक दिन में सबसे ज्यादा 28,699 नए मामले सामने आए और इसके बाद पंजाब में 2,254 और कर्नाटक में 2,010 संक्रमित मिले।

महाराष्ट्र में साप्ताहिक संक्रमण दर सबसे ज्यादा 20.53 प्रतिशत है। वहीं बात अगर मुंबई की करें तो बुधवार को यहां एक दिन में सर्वाधिक 5000 से ज्यादा केस दर्ज किए गए। बता दें कि महामारी के बाद एक दिन में आने वाले ये सबसे अधिक मामले हैं। 

मुंबई के अलावा नासिक, औरंगाबाद पुणे,नागपुर,ठाणे और नांदेड़ सबसे ज्यादा प्रभावित हैं, पूरे देश में वर्तमान में सबसे ज्यादा मरीज महाराष्ट्र में है यह कुल मरीजों की संख्या का तकरीबन 60 प्रतिशत है।

महाराष्ट्र में 32 हजार के करीब नए मामले सामने आए

वहीं बुधवार को 1 दिन में महाराष्ट्र में  कोरोना के 31885 नए मरीज  सामने आए हैं, मंगलवार को भी 28 हजार  मरीजों की संख्या दर्ज की गई थी लेकिन आज बुधवार को एक बार फिर  मरीजों की संख्या में उछाला आ गया है ।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को ‘जीनोम सीक्वेन्सिंग वर्क’ पर एक विस्तृत रिपोर्ट प्रकाशित की, जिसे भारतीय SARS-CoV-2 कंसोर्टियम ऑन जीनोमिक्स ने पिछले कुछ महीनों में किया था। इस दौरान कहा गया कि राज्यों और केद्र शासित प्रदेशों द्वारा शेयर किए गए कुल 10,787 पॉजिटिव मामलों में 771 वेरिएंट्स का पता चला है।  इनमें यूके, दक्षिण अफ्रीकी और ब्राजील के वेरिएंट शामिल थे।

इन तीन म्यूटेंट के अलावा, केंद्र ने एक डबल म्यूटेंट वेरिएंट का भी उल्लेख किया, जो नया है। साथ ही यह भी कहा कि इस तरह के म्यूटेशन से इम्यूनिटी कमजोर होती है और संक्रामण फैलने की संभावना बढ़ जाती है।

सरकारी आंकड़ों के अनुसार, डबल म्यूटेंट वेरिएंट के दो मामले पंजाब से, लद्दाख और जम्मू से एक-एक, गुजरात से तीन और ओडिशा से भी एक मामला सामने आया है। डॉ. सिंह ने कहा, “वायरस का डबल म्यूटेंट वेरिएंट धीरे-धीरे विकसित हो रहा है। हमने इस डबल म्यूटेंट को E484Q और L452R के रुप में देखा है। इस डबल म्यूटेंट को महाराष्ट्र में 206 सैंपल में और दिल्ली में भी काफी संख्या में देखा गया है।” 

उन्होंने कहा, “अब जब हम इसे लिंक करते हैं तो हमें देखना होगा कि सैंपल्स कहां से उठाए गए हैं। यह बहुत ही जरुरी है। हां, नागपुर में हमने इसकी पर्याप्त संख्या लगभग 20 प्रतिशत के आसपास दर्ज की है। लेकिन इस 20 प्रतिशत के साथ बाकी बढ़ रहे मामले को जोड़ पाना संभव नहीं है।”

नागपुर में पाए जाने वाले नए वेरिएंट के बारे में बताते हुए उन्होंने आगे कहा कि नागपुर के आठ वार्डों में कोरोना मामलों में वृद्धि देखी गई है। ये आठ वार्ड वे हैं जो पहले के संक्रमण में कम से कम प्रभावित हुए थे। इसलिए उन आठ वार्डों में अतिसंवेदनशील आबादी की तुलनात्मक रूप से ज्यादा थी।

होलिका दहन और होली मनाना प्रतिबंधित कर दिया है

मुंबई में कोरोना संक्रमण  के लगातार बढ़ रहे मामलों को देखते हुए बृहन्मुंबई नगर निगम ने वीकेंड (28 और 29 मार्च) पर होलिका दहन और होली  मनाना प्रतिबंधित कर दिया है। इस दौरान सार्वजनिक समारोहों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। बीएमसी ने परिवार के सदस्‍यों के बीच भी होली मनाने से भी मना किया है। इन नियमों के उल्‍लंघन करने वालों पर कार्रवाई की जाएगी। बता दें कि पिछले साल देश में COVID-19 महामारी की चपेट में आने के बाद, बृहन्मुंबई नगर निगम ने नागरिकों से होली समारोह के सार्वजनिक आयोजनों पर प्रतिबंध लगाया था, लेकिन इस बार महामारी के एक वर्ष बाद दोबारा वही हालात पैदा हो गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.