क्या देश से बाहर है महाराष्ट्र, दूसरे राज्यों में कोरोना निष्प्रभावी हो जाता है? जानें मंत्री ने ऐसा क्यों कहा

0
51

महाराष्ट्र में बढ़ रहे कोरोना वायरस के नए मामलों के बीच महाराष्ट्र के मंत्री असलम शेख ने चुनावी राज्यों में रैलियों के दौरान कोरोना नियमों की अनदेखी को लेकर सवाल किया है। चुनावी राज्यों में चुनावी रैलियों के दौरान कोविड-19 मानदंडों के उल्लंघन के मद्देनजर मंत्री असलम शेख ने कहा कि उन्हें आश्चर्य है कि क्या महाराष्ट्र इस देश से बाहर है, जो कोरोना वायरस के मामले केवल यहां बढ़ रहे हैं? उन्होंने पूछा कि क्या वायरस दूसरे राज्यों में निष्प्रभावी हो जाता है?

समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, मंत्री असलम शेख ने कहा कि बड़ी संख्या में लोग पश्चिम बंगाल में रैलियों और उत्तर प्रदेश और अन्य राज्यों में धार्मिक स्थलों पर एकत्रित हो रहे हैं। मुझे आश्चर्य हो रहा है कि क्या महाराष्ट्र इस देश से बाहर है कि कोविड-19 मामले केवल यहीं बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि जब भी कोरोना संक्रमण का कम्युनिटी स्प्रेड होता है, उसे केवल महाराष्ट्र और दिल्ली में देखा जा जाता। उन्होंने पूछा कि क्या कोरोना वायरस अन्य राज्यों में निष्प्रभावी हो जाता है? 

बता दें कि पिछले कुछ हफ्तों में देशभर में कोरोना वायरस के मामले बहुत तेजी से बढ़ रहे हैं और इसमें भी महाराष्ट्र से सबसे अधिक आंकड़े सामने आ रहे हैं। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की अगुवाई वाली सरकार पर देवेंद्र फडणवीस ने बुधवार को हमला बोला और कहा कि महाराष्ट्र कोरोना संक्रमण का केंद्र बन गया है।

कल से महाराष्ट्र में नाइट कर्फ्यू
महाराष्ट्र में कोविड-19 के चिंताजनक प्रसार को रोकने के लिए 28 मार्च से रात में कर्फ्यू लगाने का निर्णय लिया गया है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकर ने रविवार रात से कर्फ्यू लगाने के आदेश दिये हैं। ठाकरे ने यहां एक बैठक में स्थानीय अधिकारियों से रात आठ बजे से सुबह सात बजे तक शॉपिग मॉल को बंद रखना सुनिश्चित करने को कहा है। एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि मुख्यमंत्री ने आगाह किया है कि अगर लोग कोविड-19 सुरक्षा नियमों का पालन नहीं करते हैं तो कड़े कदम उठाए जा सकते हैं। महाराष्ट्र में शुक्रवार को कोविड-19 के 36,902 मामले सामने आए हैं जो कि अब तक के सबसे ज्यादा है।

महाराष्ट्र में कोरोना का ग्राफ
महाराष्ट्र में शुक्रवार को एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के सबसे अधिक 36,902 मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 26,37,735 हो गई। स्वास्थ्य अधिकारियों ने बताया कि राज्य की राजधानी मुंबई में दिनभर में संक्रमण के 5,515 नए मामले सामने आए। उन्होंने कहा कि शुक्रवार को 112 कोविड-19 रोगियों की मौत के बाद मृतकों की कुल संख्या 53,907 हो गई।  राज्य में 17,019 और लोगों के संक्रमण मुक्त होने के बाद ठीक हो चुके लोगों की कुल संख्या बढ़कर 23,00,056 हो गई है। उपचाराधीन रोगियों की संख्या 2,82,451 है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.