नंदीग्राम में जीत के लिए ममता बनर्जी ने बीजेपी नेता से मांगी मदद? कॉल रिकॉर्डिंग वायरल

0
62

पश्चिम बंगाल में नंदीग्राम सीट से चुनाव लड़ रहीं ममता बनर्जी को क्या अपनी जीत का पूरा भरोसा नहीं है? यह सवाल भारतीय जनता पार्टी टीएमसी से इसलिए पूछ रही है क्योंकि बीजेपी के एक नेता ने शनिवार को सनसनीखेज दावा किया कि सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस की मुखिया ने खुद उन्हें फोन करके मदद मांगी। शुभेंदु अधिकारी के सहयोगी प्रलय पाल ने कॉल रिकॉर्डिंग भी जारी की है, जिसमें ममता बनर्जी उनसे यह सीट जितवाने को कह रही हैं। 

बीजेपी के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने भी वीडियो जारी करके ममता बनर्जी पर निशाना साधा है और कहा है कि दीदी नंदीग्राम से चुनाव हार रही हैं। बीजेपी नेता प्रलय पाल ने शनिवार सुबह दावा किया कि ममता बनर्जी ने खुद उन्हें फोन किया और टीएमसी को नंदीग्राम में जितवाने में मदद मांगी। सोशल मीडिया पर दोनों के बीच हुई बातचीत का कथित ऑडियो बी वायरल हो रहा है। 

हालांकि, टीएमसी ने दावा किया है कि कॉल रिकॉर्डिंग की आवाज की सत्यता की पुष्टि नहीं हुई है। प्रलय पाल ने कहा, ”वह चाती हैं कि मैं टीएमसी के लिए काम करूं और टीएमसी में लौट जाऊं। लेकिन मैं शुभेंदु अधिकारी और अधिकारी परिवार से लंबे समय से जुड़ा हुआ हूं। अब मैं भारतीय जनता पार्टी के लिए काम कर रहा हूं।” वीडियो में वह आगे कहते हैं, ”लेफ्ट शासन के दौरान जब सीपीआई (एम) नंदीग्राम के लोगों को प्रताड़ित करती थी तो अधिकारी परिवार हमारे साथ खड़ा रहा। मैं कभी उनके खिलाफ नहीं गया और ना यह करूंगा।”

बीजेपी नेता ने कहा कि उन्होंने ममता बनर्जी को बता दिया कि टीएमसी ने नंदीग्राम के लोगों को कभी उनका अधिकार नहीं दिया और वह बीजेपी की सेवा करते रहेंगे। कथित बातचीत का ऑडियो अमित मालवीय ने भी ट्विटर पर साझा किया है। उन्होंने लिखा, ”बड़ी बात! ममता बनर्जी ने नंदीग्राम में बीजेपी के जिला उपाध्यक्ष प्रलय पाल को फोन किया और उनसे मदद की गुहार लगाई। प्रलय ने उन्हें बताया कि टीएमसी में उन्हें अपमानित किया गया वह और उनका परिवार कबी बीजेपी को धोखा नहीं देगा। पीसी निश्चित रूप से नंदीग्राम में हार रही हैं और बंगाल में टीएमसी।

गौरतलब है कि इस बार ममता बनर्जी नंदीग्राम से चुनाव लड़ रही हैं। यहां उनके खिलाफ उनके ही पूर्व सहयोगी शुभेंदु अधिकारी चुनावी मैदान में हैं। दोनों के बीच कड़ी टक्कर बताई जा रही है। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.