पश्चिम बंगाल और असम में पहले चरण का मतदान जारी, कई दिग्गजों की किस्मत का होगा फैसला

0
154

पश्चिम बंगाल और असम में आज से चुनावी महासंग्राम का आगाज हो रहा है। दोनों राज्यों के विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए मतदान शुरू हो गया है, जिसमें कई प्रमुख उम्मीदवारों की किस्मत दांव पर लगी है। दोनों राज्यों में पहले चरण में पंजीकृत मतदाताओं की संख्या 1.54 करोड़ से अधिक है। पश्चिम बंगाल की 30 सीटों पर आज पहले चरण का मतदान शुरू हो चुका है। पहले फेज के लिए सभी राजनीतिक दलों ने कड़ी तैयारी की है। गहन चुनाव प्रचार किया है और एक एक वोटर के घर जाकर वोट मांगा है। चुनाव मैदान में कुल 191 उम्मीदवार हैं और 73 लाख वोटर उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करने वाले हैं। आज जंगलमहल इलाके में मतदान है। इस इलाके में पांच जिले बांकुड़ा, पुरुलिया, झाड़ग्राम, पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर आते हैं।

गृह मंत्री अमित शाह ने मतदाताओं से बंगाल के गौरव को फिर से स्थापित करने के लिए अधिक से अधिक संख्या में निडर होकर मतदान करने की अपील की है। अमित शाह ने कहा है कि आपका एक वोट सुभाष चंद्र बोस, गुरुदेव टैगोर व श्यामा प्रसाद मुखर्जी जैसे महापुरुषों की कल्पना के बंगाल की रचना को साकार करेगा।

– पश्चिम बंगाल: पुरुलिया में विधानसभा चुनाव के प्रथम चरण के लिए मतदान चल रहे हैं। मतदान केंद्र पर आ रहे लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग भी की जा रही है।

2016 के विधानसभा चुनावों में 30 में से 27 सीटों पर टीएमसी का कब्जा था जबकि 2019 के लोकसभा चुनावों में बीजेपी ने 5 संसदीय सीटों पर कब्जा जमाया। आज जिन सीटों पर चुनाव हो रहा है। उन सीटों में से कांथी उत्तर, कांथी-दक्षिण, भगवानपुर, खेजुरी, रामनगर, इगरा विधानसभा सीटों पर शुभेंदु अधिकारी और उनके परिवार का अच्छा खासा दबदबा है। जिन इलाकों में आज चुनाव होने जा रहे हैं, वो इलाके नक्सल प्रभावित इलाके हैं ऐसे में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।
चुनाव आयोग ने पैरामिलिट्री फोर्स की 684 कंपनियों को तैनात किया है, जिनके पास 10,288 मतदान केंद्रों की सुरक्षा की जिम्मेदारी है। झाड़ग्राम के हर बूथ पर 11 पैरामिलिट्री जवान जबकि दूसरे जिलों के पोलिंग बूथ पर औसतन 6 पैरामिलिट्री के जवान तैनात रहेंगे।
असम की 126 सदस्यीय विधानसभा की 47 सीटों पर पहले चरण में मतदान होगा। इस चरण में अधिकतर सीटों पर सत्तारूढ़ भाजपा-एजीपी गठबंधन, कांग्रेस नीत विपक्षी महागठबंधन और नवगठित असम जातीय परिषद (एजेपी) के बीच त्रिकोणीय मुकाबला होने के आसार हैं। राज्य में तीन चरणों में मतदान होगा। पहले चरण में 27 मार्च, दूसरे चरण में एक अप्रैल और तीसरे चरण में छह अप्रैल को वोट डाले जाएंगे। अधिकारियों ने कहा कि मतदान सुबह सात बजे शुरू होकर शाम छह बजे समाप्त होगा। कोविड-19 नियमों का पालन सुनिश्चित करने के लिये मतदान का समय एक घंटा बढ़ाया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.