महाराष्ट्र में कोरोना मामलों में जबरदस्त उछाल, पिछले 24 घंटे में आए 43,183 नए केस, 249 की मौत

0
33

कोरोना वायरस का संक्रमण महाराष्ट्र में कोहराम मचाने लगा है। राज्य में गुरुवार को कोरोना के 43,183 नए मामले सामने आए। इसके साथ ही प्रदेश में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 28,56,163 हो गई है। वहीं राज्य में कोरोना महामारी की वजह से 249 लोगों ने दम तोड़ दिया। महाराष्ट्र में पिछले केवल 72 घंटों में 1 लाख से अधिक नए संक्रमण के मामले सामने आ चुके हैं। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने बताया कि इससे पहले 28 मार्च को प्रदेश में कोविड-19 के 40,414 नए मामले सामने आये थे जो अब तक का एक दिन का सर्वाधिक मामला है। उन्होंने बताया कि प्रदेश में 22 मार्च को संक्रमितों का आंकड़ा 25 लाख को पार कर गया था जबकि 27 मार्च को यह 28 लाख को पार कर गया।
अधिकारी ने बताया कि राज्य में 249 कोरोना मरीजों की मौत हो गई। पिछले साल अक्टूबर के बाद से राज्य में मरने वालों की यह संख्या सबसे अधिक है। उन्होंने बताया कि इसके बाद प्रदेश में संक्रमण से मरने वालों की संख्या बढ़ कर 54,898 हो गई है। विभाग के अनुसार, महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के कुल मामले 28,56,163 हो गए हैं, जिनमें से कुल 24,33,368 लोग ठीक हो गए हैं। फिलहाल, राज्य में संक्रमण के कुल 3,66,533 सक्रिय मामले हैं।

वहीं, भारत में एक दिन में कोविड-19 के 72,330 नए मामले सामने आने के बाद देश में संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,22,21,665 हो गई। इस वर्ष सामने आए संक्रमण के ये सर्वाधिक मामले हैं। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए आंकड़ों में यह जानकारी दी गई। इससे पहले 11 अक्टूबर 2020 को एक दिन में 74,383 नए मामले सामने आए थे। आंकड़ों के अनुसार, 459 और मरीजों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,62,927 हो गई। करीब 116 दिन बाद एक दिन में संक्रमण से मौत के इतने अधिक मामले सामने आए हैं।

आंकड़ों के अनुसार, पिछले 22 दिनों से लगातार बढ़ते नए मामलों के साथ ही उपचाराधीन मरीजों की संख्या भी बढ़कर 5,84,055 हो गई, जो कुल मामलों का 4.78 प्रतिशत है। इस साल 12 फरवरी को उपचाराधीन मरीजों की संख्या सबसे कम 1,35,926 थी, जो तब के कुल मामलों का 1.25 प्रतिशत थी। देश में अभी तक कुल 1,14,74,683 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और मरीजों के ठीक होने की दर 93.89 प्रतिशत है। वहीं, कोविड-19 से मृत्यु दर 1.33 प्रतिशत है। 

देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख, 20 नवम्बर को 90 लाख रहे और 19 दिसम्बर को ये मामले एक करोड़ के पार चले गए थे। भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के अनुसार, देश में 31 मार्च तक 24,47,98,621 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई। इनमें से 11,25,681 नमूनों की जांच बुधवार को की गई थी। 

आंकड़ों के अनुसार, देश में कोविड-19 से पिछले 24 घंटे में जिन 459 लोगों की मौत हुई, उनमें से महाराष्ट्र के 227, पंजाब के 55, छत्तीसगढ़ के 39, कर्नाटक के 26, तमिलनाडु के 19, केरल के 15, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के 11-11 लोग थे। मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में वायरस से अभी तक कुल 1,62,927 लोगों की मौत हुई है, जिनमें से महाराष्ट्र के 54,649, तमिलनाडु के 12,719, कर्नाटक के 12,567, दिल्ली के 11,027, पश्चिम बंगाल के 10,329, उत्तर प्रदेश के 8,811, आंध्र प्रदेश के 7,217 और पंजाब के 6,868 लोग थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.