कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच महाराष्ट्र सरकार की नई गाइडलाइंस, जानें क्या बंद रहेंगे और क्या खुलेंगे?

0
38

पूरे राज्य में होगा वीकेंड लॉकडाउन

महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राज्य की उद्धव ठाकरे की सरकार ने कई फैसले किए हैं. रविवार को मंत्रिपरिषद की बैठक में ये फैसला लिया गया कि रात 8 से सुबह 7 तक महाराष्ट्र में नाइट कर्फ्यू लागू रहेगा. इसके अलावा दिनभर धारा 144 लागू रहेगा. एक जगह पर पांच से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर पाबंदी रहेगी. सूत्रों के मुताबिक, शनिवार और रविवार पूरे राज्य में लॉकडाउन लागू होगा. ये सभी नियम सोमवार रात आठ बजे से लागू होंगे.

क्या खुलेंगे क्या बंद रहेंगे?

  • मॉल, रेस्टोरेंट और बार बंद करने का फैसला.
  • जरूरी सेवाएं चालू रहेंगी.
  • सरकारी ऑफिस 50 फीसदी की क्षमता के साथ काम करेंगे.
  • सब्जी मंडियां बंदी नहीं रहेंगी.
  • शुक्रवार रात 8 से सोमवार सुबह 7 तक स्ट्रिक्ट लॉकडौन रहेगा.
  • होटल में बैठकर खाने की इजाजत नहीं होगी.
  • सिनेमा हॉल्स, पार्क और खेल के मैदान बंद रहेंगे.
  • रिक्शा, टैक्सी और ट्रेन बंद नहीं होंगे.
  • किसी भी जगह पर पांच से अधिक लोगों के इकट्ठा होने पर रोक
  • बड़े फिल्मों की शूटिंग की इजाजत नहीं होगी.
  • इंडस्ट्री पूरी तरह चालू रहेगी, वर्कर्स पर कोई पाबंदी नहीं.
  • पब्लिक ट्रांसपोर्ट 50 फीसदी की क्षमता से चलेगा.

महाराष्ट्र में कोरोना बेकाबू
बता दें कि महाराष्ट्र में शनिवार को कोविड-19 के 49,447 नये मामले सामने आये जो अभी तक किसी एक दिन में सामने आये सबसे अधिक मामले हैं. इससे राज्य में संक्रमितों की कुल संख्या बढ़कर 29,53,523 हो गई जबकि 277 और मरीजों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्या बढ़कर 55,656 हो गई. मुंबई शहर में कोविड-19 के 9,108 नये मामले सामने आये जो एक दिन में सबसे अधिक हैं.
स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि 1,84,404 और जांच की गई जिससे महाराष्ट्र में अब तक की गई कुल जांच की संख्या बढ़कर 2,03,43,123 हो गई है. विभाग ने कहा कि राज्य में ठीक होने की दर अब 84.49 प्रतिशत है, जबकि मृत्यु दर 1.88 प्रतिशत है. बयान में कहा गया है कि 277 मौतों में से 132 मौतें पिछले 48 घंटों में हुईं. कुल 37,821 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी दी गई जिससे महाराष्ट्र में अब तक ठीक हुए मरीजों की संख्या बढ़कर 24,95,315 हो गई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.