कोरोना संकट: मध्य प्रदेश ने सील किया महाराष्ट्र बॉर्डर, छत्तीसगढ़ से आवाजाही पर भी रहेगी रोक

0
46

कोरोना संक्रमण का बढ़ता संकट एक बार फिर आवाजाही पर पाबंदियां लगा रहा है. मध्य प्रदेश सरकार ने अब महाराष्ट्र बॉर्डर सील कर दिया है. साथ ही छत्तीसगढ़ से आवाजाही पर भी रोक लगा दी है. इससे पहले कोरोना को गंभीरता से लेते हुए मध्य प्रदेश सरकार ने प्रदेश के चार शहरों में लॉकडाउन लगाने की घोषणा की थी.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज एक बयान में कहा, ‘हमारे पड़ोसी राज्यों में स्थिति बहुत बुरी है, महाराष्ट्र और छत्तीसगढ़ में स्थिति संकटपूर्ण है. हमने महाराष्ट्र की सीमा को सील किया है, छत्तीसगढ़ से आने-जाने पर भी प्रतिबंध लगेगा.’

मध्य प्रदेश के चार शहरों में लॉकडाउन लागू
मध्य प्रदेश में एक अप्रैल से पांच अप्रैल तक छिंदवाड़ा और रतलाम में रात दस बजे से सुबह छह बजे तक लॉकडाउन लागू है. वहीं बैतूल में दो अप्रैल की रात दस बजे से पांच अप्रैल की सुबह छह बजे तक और खरगोन में दो अप्रैल की रात आठ बजे से पांच अप्रैल की सुबह छह बजे तक लॉकडाउन है.

इस बीच, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि महाराष्ट्र के सीमावर्ती जिले छिंदवाड़ा में मरीजों की अधिक संख्या को देखते हुए संक्रमण के प्रभावी नियंत्रण के लिए तीन दिन का लॉकडाउन लगाया गया है. इसके अलावा प्रदेश में रविवार का लॉकडाउन जिन शहरों में पूर्व में रहा है वहां यथावत रहेगा. खरगोन, बैतूल और रतलाम में अधिकारियों के एक-एक दल को भेजा गया है.

मध्य प्रदेश में कोरोना संक्रमण के 2,839 नए मामले
मध्य प्रदेश में शनिवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 2,839 नए मामले सामने आए और इसके साथ ही प्रदेश में संक्रमितों की कुल संख्या 3,03673 हो गयी. राज्य में पिछले 24 घंटों में इस बीमारी से प्रदेश में 15 और व्यक्तियों की मौत हुई है. प्रदेश में अब तक इस बीमारी से मरने वालों की संख्या 4,029 हो गयी है.

प्रदेश में शनिवार को कोविड-19 के 708 नए मामले इंदौर में सामने आये, जबकि भोपाल में 502 नए मामले सामने आए. अब तक 2,79,275 मरीज स्वस्थ हो गए हैं और 20,369 मरीजों का इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है. शनिवार को 1,791 रोगियों को ठीक होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दे दी गई.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.