बेगूसराय: विवाहिता की हत्या, पति सहित ससुरालवालों पर हत्या का आरोप

0
105

बेगूसराय जिले में एक बार फिर हैवान पति ने पत्नी की हत्या कर दी। इस घटना से इलाके में सनसनी फैल गयी है। घटना मंसूरचक थाना क्षेत्र के अगापुर नवटोल गांव का है। मृतका की पहचान रमेश पासवान की 22 वर्षीय पत्नी प्रीति देवी के रूप में हुई है। बताया जाता है कि जब से शादी हुई तब से एक भी संतान नहीं होने से नाराज रमेश पासवान अक्सर अपनी पत्नी प्रीति देवी को प्रताड़ित किया करता था उसकी पिटाई किया करता था। जब पीड़िता ने अपने मायके वालों को इसकी सूचना दी तब मायके वालों ने रमेश को काफी समझाया बुझाया लेकिन वह समझने को  तैयार नहीं था। फिर से गाली गलौज, मारपीट करने लगा। यही नहीं बच्चे को लेकर उसे ताना देना शुरू कर दिया। जिसके बाद इस घटना को अंजाम दिया गया।

बीती रात भी इसी बात को लेकर पति-पत्नी के बीच विवाद शुरू हो गया। विवाद इतना बढ़ गया कि पति समेत ससुरालवालों ने मिलकर पहले तो पिटाई की फिर गला दबाकर प्रीति देवी की हत्या कर दी। घटना को अंजाम देने के बाद सभी घटनास्थल से फरार हो गये। जिसके बाद स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना मृतका के परिजनों को दी। आनन-फानन में पहुंचे मृतका के मायके वाले पहुंचे और मंसूरचक थाना पुलिस को इसकी सूचन दी। घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लिया और उसे पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा। फिलहाल पुलिस आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

मृतका के भाई सिकंदर पासवान ने बताया कि 2017 में बड़ी धूमधाम के साथ उसने अपनी बहन की शादी आगापुर नवटोल निवासी देवीलाल पासवान के पुत्र रमेश कुमार पासवान के साथ की थी। बच्चे नहीं होने के कारण उनकी बहन प्रीति की अकसर पिटाई की जाती थी उसे शारिरीक और मानसिक रूप से प्रताड़ित किया जाने लगा। आखिरकार इसी बात को लेकर पति,सास-ससुर और देवर ने मिलकर इस कदर से पिटाई कर दी उसकी मौत हो गयी। हत्या की इस घटना के खिलाफ मंसूरचक थाने में पति, सास-ससुर समेत 4 लोगों पर मामला दर्ज कराया गया है। वही इस घटना के बाद पति सहित ससुरालवाले घर छोड़कर फरार हो चुके है। वही मंसूरचक थाना प्रभारी पवन कुमार का कहना है कि पति समेत चार लोगों पर प्रीति के मायके वालों ने हत्या का केस दर्ज कराया है। आरोपी पति एवं अन्य लोगों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.