महाराष्ट्र: दिलीप वलसे पाटिल को मिली गृह विभाग की जिम्मेदारी, कभी शरद पवार के PA हुआ करते थे

0
110

दिलीप वलसे पाटिल को महाराष्ट्र का गृह मंत्री बनाया गया है। सोमवार को अनिल देशमुख ने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे को गृह मंत्री पद से अपना इस्तीफा सौंपा, उसके बाद ठाकरे ने इस्तीफे को राज्यपाल के पास भेजा दिया। इसके बाद दिलीप वलसे पाटिल को गृह विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई। वह पहले से महाराष्ट्र सरकार में मंत्रा हैं।

उन्हें जो पहले विभाग दिए गए थे, उनमें से एक हसन मुशरिफ को जबकि एक विभाग अजित पवार को सौंप दिया गया है। नए गृह मंत्री दिलीप वलसे पाटिल को NCP प्रमुख शरद पवार का वफादार माना जाता है। किसी जमाने में वह शरद पवार के PA हुआ करते थे और आज उन्हें राज्य के गृह विभाग की जिम्मेदारी सौंपी गई है।

कौन हैं दिलीप वलसे पाटिल?

महाराष्ट्र की राजनीति में दिलीप वलसे पाटिल पुराना नाम है। वह 1999 से 2008 तक कई अलग-अलग मंत्रालय संभाल चुके हैं। इस दौरान वह वित्त मंत्री, ऊर्जा मंत्री, उच्च और तकनीकी शिक्षा मंत्री जैसे हाईप्रोफाइल पोर्टफोलियो पर रहे। दिलीप पाटिल 6 बार के विधायक हैं। वर्तमान सरकार में उनके पास एक्साइज और लेबर मिनिस्टर थी।

शरद पवार के बेहद करीबी नेताओं की सूची में इनका नाम आता है। पाटिल ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत शरद पवार के PA (पर्सलन असिस्टेंट) के तौर पर की थी। हालांकि, उनके पिता दत्तात्रेय वलसे पाटिल कांग्रेस के विधायक थे। वह शरद पवार के करीबी मित्र भी थे। 

अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत में दिलीप पाटिल ने सबसे पहले अंबेगांव सीट से कांग्रेस के किशनराव को हराकर जीत हासिल की थी। उसके बाद से यह विधानसभा क्षेत्र उनके गढ़ के रूप में देखा जाने लगा। बता दें कि दिलीप पाटिल राज्य के अंबेगांव इलाके से ताल्लुक रखते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.