नीतीश के खिलाफ बोलता रहूंगा, मैं किसी से डरता नहीं हूं: बीजेपी एमएलसी टुन्नाजी पांडेय

0
52

अपने बयानों से बिहार की सियासत में तूफान ख़ड़ा करने वाले बीजेपी के एमएलसी टुन्नाजी पांडेय ने फिर हमला बोला है. टुन्नाजी पांडेय ने कहा है कि वे नीतीश कुमार के बारे में सच बोलते रहेंगे. किसी के डर से बोलना बंद नहीं करेंगे. बीजेपी चाहे तो उन्हें पार्टी से निकाल दे. बीजेपी से उनका खर्च नहीं चलता है.

टुन्नाजी पांडेय ने फिर चुनौती दी
दरअसल आज ही टुन्नाजी पांडेय को विधान परिषद की अनुशासन समिति ने नोटिस भेजा है. उधर जेडीयू ने कहा है कि नीतीश पर अंगुली उठाने वाले की अंगुली काट लेंगे. इन सबके बीच टुन्नाजी पांडेय ने फिर मीडिया से बात की. कहा-नीतीश के बारे में जो कुछ बोला है सच बोला है. ऐसा सच बोलता रहूंगा. किसी से डरने वाला नहीं हूं.

विधान परिषद को जवाब देंगे, बीजेपी चाहे तो निकाल दे
टुन्नाजी पांडेय ने कहा कि विधान परिषद की अनुशासन समिति द्वारा नोटिस भेजे जाने की खबर उन्हें मीडिया से मिली है. नोटिस आयेगा तो जवाब देंगे. नीतीश कुमार के बारे में सच बोलना गुनाह नहीं है. रही बात पार्टी की तो बीजेपी जब चाहे पार्टी से निकाल दे. बीजेपी कोई मेरा खर्च नहीं चलाती है कि डर कर चुप बैठ जाऊं. बीजेपी जब चाहे तब पार्टी से निकाल दे. जेडीयू नेताओं की बयानबाजी पर टुन्नाजी पांडेय ने कहा कि वे किसी से डरने वाले नहीं हैं. जिसे जो बोलना है बोले कुछ कर नहीं पायेगा. टुन्नाजी पांडेय ने कहा कि उन्हें अब कोई चुनाव नहीं लड़ना है. जब तक कि सिवान के शहाबुद्दीन के परिवार के किसी व्यक्ति को सदन में नहीं भेजा जाता. 

गौरतलब है कि टुन्नाजी पांडेय के बयान से बिहार एनडीए में घमासान छिड़ा है. गुरूवार को सुबह-सुबह जेडीयू ने बीजेपी को खुली चेतावनी दी. जेडीयू के मुख्य प्रवक्ता का बयान संजय सिंह ने फर्स्ट बिहार से बात करते हुए कहा कि बीजेपी के नेता नीतीश कुमार के खिलाफ बयानबाजी कर रहे हैं औऱ बीजेपी कोई कार्रवाई नहीं कर रही है. हमारे बर्दाश्त की सीमा पार होती जा रही है. अब अगर बीजेपी ने अपने नेताओं की बयानबाजी पर रोक नहीं लगायी तो ईंट का जवाब पत्थर से देंगे. 

अंगुली सलामत नहीं रहने देंगे
संजय सिंह ने कहा कि बीजेपी को समझ लेना चाहिये कि अगर नीतीश कुमार पर अंगुली उठायी तो अंगुली सलामत नहीं रहने देंगे. हम चुप बैठे हैं तो उसे हमारी कमजोरी नहीं समझना चाहिये. लेकिन बर्दाश्त की सीमा पार हो गयी है, जेडीयू के मुख्य प्रवक्ता ने कहा-हमको भी बोलने आता है, हमारे मुंह में भी जुबान है. हम भी जवाब देना जानते हैं. नीतीश कुमार के बारे में कोई बयानबाजी बर्दाश्त नहीं की जायेगी.

दरअसल टुन्नाजी पांडेय ने पहले से बयान दिया था कि नीतीश कुमार परिस्थितियों के मुख्यमंत्री हैं. उन्हें जनता ने वोट नहीं दिया है. वोट तो तेजस्वी यादव को मिला था लेकिन जनादेश की चोरी करके नीतीश कुमार मुख्यमंत्री बन गये हैं. टुन्ना जी पांडेय ने कहा था कि नीतीश कुमार को तो जेल में रहना चाहिये था.

नाराज जेडीयू ने बीजेपी से पूछा कि टुन्ना जी पांडेय के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की है. जेडीयू के मुख्य प्रवक्ता ने कहा कि टुन्नाजी पांडेय ने विधानसभा चुनाव में अपने भाई को राजद से उम्मीदवार बनवाया औऱ वे राजद से विधायक चुने गये हैं. जेडीयू ने कहा कि पूरे चुनाव में टुन्नाजी पांडेय ने एनडीए के खिलाफ अभियान चलाया. चुनाव के बाद वे नीतीश कुमार के खिलाफ उल्टा सीधा बयानबाजी कर रहे हैं. संजय सिंह ने कहा कि आखिरकार बीजेपी टुन्नाजी पांडेय के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं कर रही है. जेडीयू ने कहा कि टुन्नाजी पांडेय शऱाब के कारोबारी थे. बिहार में शराब बंद होने के बाद वे नीतीश कुमार पर बौखलाये हैं. इसलिए भी वे नीतीश कुमार के खिलाफ बयान दे रहे हैं.

इससे पहले बुधवार को जेडीयू नेता उपेंद्र कुशवाहा ने भी बीजेपी पर सवाल उठाये थे. उन्होंने बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष से पूछा था कि अगर टुन्नाजी पांडेय की तरह किसी जेडीयू नेता ने बीजेपी के खिलाफ बयानबाजी की होती तो क्या होता. बाद में इस मामले में जीतन राम मांझी की पार्टी हम भी कूद पड़ी थी. हम ने कहा था कि नीतीश कुमार पर सवाल उठाने वालों को करारा जवाब दिया जायेगा.

उधर विधान परिषद में टुन्नाजी पांडेय के खिलाफ कार्रवाई शुरू हुई है. विधान परिषद की अनुशासन समिति ने टुन्नाजी पांडेय को नोटिस भेजा है कि उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जाये.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.