WTC FINAL IND vs NZ Day 4 : बारिश के चलते चौथे दिन का खेल रद्द, नहीं फेंकी जा सकी एक भी गेंद

0
54

आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का फाइनल मैच भारत और न्यूजीलैंड के बीच साउथम्पटन में खेला जा रहा है। बारिश के चलते चौथे दिन एक भी गेंद नहीं फेंकी जा सकी। लगातार बारिश के बाद चौथे दिन के खेल को रद्द करना पड़ा। यह ऐतिहासिक टेस्ट मैच 18 जून को शुरू हुआ था। 18 जून को भी बारिश के चलते टॉस तक नहीं हो सका था, इसके बाद मैच के दूसरे और तीसरे दिन मिलाकर अभी तक महज 141.1 ओवर का ही मैच हो सका है। आईसीसी ने इस मैच के लिए 23 जून रिजर्व डे के तौर पर रखा है। मौजूदा परिस्थिति को देखते हुए ऐसा लग रहा है कि यह टेस्ट ड्रॉ ही होगा और भारत और न्यूजीलैंड को संयुक्त तौर पर विजेता घोषित किया जाएगा।

मैच के पांचवें दिन यानी मंगलवार को भी बारिश की आशंका है। ऐसे में रिजर्व डे में मैच कराया जाना तय माना जा रहा है।

भारत का टेस्ट रिकॉर्ड देखें तो जब भी टीम ने किसी टेस्ट की पहली पारी में 250 से कम रन बनाए हैं, टीम को सबसे ज्यादा हार का सामना करना पड़ा है। हालांकि, मौजूदा टेस्ट के बारिश के कारण ड्रॉ होने की संभावना ज्यादा है।

भारत ने अब तक 93 टेस्ट की पहली पारी में 250 से कम का स्कोर बनाया, जिसमें सिर्फ 20 बार ही टीम को जीत मिली। इस दौरान टीम ने 54 मैच गंवाए, जबकि 19 बार ड्रॉ खेला है। इस रिकॉर्ड को देखकर कोहली अब जीत के लिए मजबूत रणनीति बनाने में जुट गए होंगे। भारतीय टीम मैच बचाने के लिए अब न्यूजीलैंड को चौथे दिन 200 से कम के स्कोर पर रोकना चाहेगी।

पांचवें दिन स्पिनर्स को मिल सकती है मदद
पिच क्यूरेटर सिमोन ली की मानें तो पांचवें दिन स्पिनर्स को मदद मिल सकती है। ऐसे में अश्विन और रवींद्र जडेजा अहम भूमिका निभा सकते हैं। मैच से पहले सिमोन ने बताया था कि पिच से शुरुआती 3 दिन तेज गेंदबाजों को मदद मिलेगी। जबकि आखिरी दो दिन स्पिनर्स अपना जादू दिखा सकेंगे। यदि ऐसा होता है, तो न्यूजीलैंड को दिक्कत हो सकती है, क्योंकि वह बिना स्पिनर के मैच खेल रही है।

अश्विन और ईशांत ने 1-1 विकेट लिया
न्यूजीलैंड के लिए डेवॉन कॉनवे ने 54 और टॉम लाथम ने 30 रन की पारी खेली। टीम इंडिया के लिए स्पिनर रविचंद्रन अश्विन और पेसर ईशांत शर्मा ने 1-1 विकेट लिया। अश्विन ने टॉम लाथम को कोहली के हाथों कैच आउट कराया। जबकि 54 रन बनाकर खेल रहे डेवॉन कॉनवे को ईशांत शर्मा ने मोहम्मद शमी के हाथों कैच आउट कराया।

कॉनवे WTC फाइनल में फिफ्टी लगाने वाले पहले प्लेयर बने
कॉनवे WTC फाइनल में फिफ्टी लगाने वाले पहले प्लेयर बन गए हैं। करियर का तीसरा टेस्ट खेल रहे कॉनवे की यह दूसरी फिफ्टी है। कॉनवे डेब्यू के बाद लगातार 3 टेस्ट की पहली पारी में 50+ स्कोर बनाने वाले दूसरे कीवी प्लेयर बन गए हैं। उन्होंने डीन ब्रावंली की बराबरी की है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.