नुसरत जहां की लोकसभा सदस्यता रद्द करने की मांग, बीजेपी सांसद ने कहा- मतदाताओं को धोखा दिया

0
62

पश्चिम बंगाल की बशीरहाट सीट से तृणमूल कांग्रेस की सांसद नुसरत जहां की शादी का मामला अब लोकसभा तक पहुंच गया है. बीजेपी की सांसद संघमित्रा मौर्य ने लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला को चिट्ठी लिखकर नुसरत जहां की लोकसभा सदस्यता रद्द करने की मांग की है.   

बीजेपी सांसद संघमित्रा ने नुसरत जहां पर अमर्यादित आचरण का आरोप लगाया है. संघमित्रा ने चिट्ठी में कहा कि नुसरत जहां ने लोकसभा सदस्य के रूप में शपथ के दौरान अपने नाम का उच्चारण ‘नुसरत जहां रूही जैन’ के तौर पर किया था. लोकसभा की वेबसाइट पर भी नुसरत जहां के पति का नाम निखिल जैन लिखा है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी उनकी शादी के रिस्पेशन में शामिल हुईं थी. किसी को भी नुसरत के निजी जीवन में दखलअंदाजी नहीं करना चाहिए, लेकिन उनके हालिया बयान का मतलब है कि उन्होंने जानबूझकर संसद को गलत जानकारी दी. उन्होंने मतदाताओं को धोखा दिया.

संघमित्रा ने आरोप लगाया कि नुसरत जहां ने मतदाताओं को धोखे में रखा है. इससे संसद की गरिमा धूमिल हुई है. बीजेपी सांसद ने इस मामले को संसद की आचरण समिति को भेजकर जांच करवाने और नुसरत पर कार्रवाई की मांग की है.

अपनी शादी को लेकर नुसरत जहां का क्या कहना है
नुसरत ने कथित तौर पर 2019 में तुर्की में व्यवसायी निखिल जैन से शादी की थी. कोलकाता में एक रिसेप्शन भी आयोजित किया गया था, जिसमें मशहूर हस्तियों और प्रमुख राजनेताओं ने भाग लिया था. अब नुसरत जहां का दावा है कि निखिल जैन से उनकी शादी भारत में वैध नहीं है. उनके बीच महज एक लिव-इन रिलेशनशिप थी और उनका अलगाव बहुत पहले हो गया था. नुसरत ने कहा कि हमारी शादी तुर्की के कानून के हिसाब से हुई थी, ऐसे में यह भारत में वैध नहीं है. इस तरह तलाक का सवाल ही नहीं उठता है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.