जानें कौन है काला जठेड़ी? जिसके खतरे के चलते सुशील कुमार को किया गया तिहाड़ जेल में शिफ्ट

0
98

सागर धनखड़ हत्याकांड के आरोप में जेल में बंद सुशील पहलवान को मंडोली जेल से तिहाड़ जेल में शिफ्ट किया गया. उन्हें तिहाड़ की जेल नम्बर 2 में भेजा गया. सुशील को जेल प्रशासन के मुताबिक- ये रूटीन प्रक्रिया है. सूत्रों की मानें तो सुरक्षा कारणों से ऐसा किया गया है. बता दें कि जब सागर को पीटा गया था तो उसे साथ सोनू महाल को भी पीटा गया था. सोनू इस केस में चश्मदीद गवाह और दुबई में बैठे गैंगस्टर काला जठेड़ी उर्फ संदीप काला का भांजा है.

जानें कौन है काला जठेड़ी, अपराध की दुनिया में जिसका चलता है सिक्का

काला जठेड़ी का नाम अपराध की दुनिया में मशहूर है. दिल्ली-हरियाणा उत्तराखंड में वह वारदातों को अंजाम देता है वह भी विदेश में बैठे-बैठे. फिलहाल कहा जा रहा है कि वह दुबई के किसी ठिकाने पर मौजूद है. कई बड़े गैंगस्टर इन दिनों जेल में बंद है तो इसलिए काला जठेड़ी दिल्ली में भी अपनी पैठ बड़ा रहा है. लॉरेंस विश्नोई गैंग को भी इन दिनों वही चला रहा है. काला और विश्नोई को करीब लाने वाला कपिल सांगवान भी लंदन में बैठकर गैंग चला रहा है. बताया जा रहा है कि काला जठेड़ी उर्फ संदीप ने हरियाणा के सोनीपत से 12वीं तक की पढाई की. उसके बाद वह केबल ऑपरेटर का काम करता था. इसके बाद रोहतक में एक लूट के दौरान उसने हत्या को अंजाम दिया और फिर वह जुर्म की दुनिया में एक के बाद एक अपराध करता गया. वह विदेश में बैठकर अपने गुर्गों से यहां अपराधों को अंजाम दिलवाता है.

प्रोटीन युक्त डाइट देने की सुशील कुमार की अर्जी खारिज
बता दें कि कुछ समय पहले ही सुशील कुमार ने कोर्ट में अर्जी देकर आग्रह किया था कि उन्हें जेल के अंदर विशेष भोजन और पूरक आहार दिया जाए. कोर्ट ने इस अर्जी को खारिज करते हुए कहा था कि ये आवश्यक जरूरतें नहीं हैं. सुशील ने रोहिणी की कोर्ट में अर्जी दायर की थी कि उन्हें प्रोटीन युक्त डाइट, कसरत का सामान जेल में ही दिया जाए, क्योंकि वह पहलवानी में अपना करियर जारी रखना चाहते हैं. उन्होंने कहा था कि व्हे प्रोटीन, ज्वाइंटमेंट कैप्सूल, प्री वर्कआउट सी 4, ओमेगा 3 कैप्सूल और मल्टीविटामिन जीएनसी समेत सुविधाएं मुहैया करवाई जाएं.  इस पर जज ने कहा था कि ये विशेष भोजन और पूरक आहार आरोपी की इच्छाएं हैं, आवश्यक जरूरतें नहीं. जज ने ये भी कहा था कि दिल्ली जेल कानून 2018 के तहत आरोपियों की जरूरतों का जेलों में ख्याल रखना जाता है.

जेल में मिलता है ये खाना
बता दें कि जेल में सुबह का नाश्ता रोज बदलता रहता है- जैसे चाय, पोहा, ब्रेड, केला आदि. दोपहर के भोजन में रोटी, दाल, दो सब्जियां और चावल मिलता है. रात में भी ऐसा ही खाना मिलता है.

सुशील कुमार की मुश्किलें बढ़ीं
इससे पहले पुलिस ने इस मामले में 11वें आरोपी जुडो कोच सुभाष को अरेस्ट किया था. वह सुशील कुमार का करीबी है. वह स्कूल में व्यायाम का शिक्षक और जूडो कोच भी है. सुभाष के बारे में कहा जाता है कि उसका ताल्लुक काला जेठड़ी गैंग से भी है.  बता दें कि इस मामले में आरोपी सुशील कुमार के मोबाइल और कपड़े पुलिस अभी तक बरामद नहीं कर पाई है. मामले का सीसीटीवी फुटेज भी मिला है. जब मॉडल टाउन इलाके से सुशील और उसके साथी सागर को किडनैप करने पहुंचे थे. दिल्ली पुलिस के हाथ में काफी सबूत लग गए हैं, जिससे सुशील कुमार की मुश्किलें बढ़ सकती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.