इंग्लैंड के खिलाफ नंबर-3 पर खेलेंगे विराट? अभ्यास मैचों में फेल रहे तो पुजारा हो सकते हैं प्लेइंग-11 से बाहर

0
88

वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में टीम इंडिया को न्यूजीलैंड के हाथों 8 विकेट से करारी हार झेलनी पड़ी। इसके बाद से ही इंग्लैंड के खिलाफ अगस्त-सितंबर में होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए भारतीय टीम कॉम्बिनेशन पर चर्चा छिड़ गई है। माना जा रहा है कि टीम मैनेजमेंट दूसरी दीवार कहे जाने वाले चेतेश्वर पुजारा के हालिया प्रदर्शन से नाखुश है।

भारतीय खेमा टेस्ट सीरीज से पहले दो अभ्यास मैच करवाने की तैयारी में है। इन मुकाबलों में अगर पुजारा दमदार खेल नहीं दिखा पाए तो उन्हें भारत की प्लेइंग-11 से बाहर का रास्ता दिखाया जा सकता है।

राहुल या विहारी को मिडिल ऑर्डर में मौका देने की चर्चा
अगर पुजारा प्लेइंग-11 से ड्रॉप होते हैं तो कप्तान विराट कोहली नंबर-3 पर बल्लेबाजी के लिए आ सकते हैं। विराट ने इंग्लैंड के खिलाफ इंग्लैंड में 2018 में खेली गई सीरीज में 5 मैचों में 59.30 की औसत से 593 रन बनाए थे। टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, अगर पुजारा बाहर होते हैं और विराट नंबर-3 पर आते हैं तो मिडिल ऑर्डर में लोकेश राहुल या हनुमा विहारी में से किसी एक को मौका दिया जा सकता है। विहारी ने इंग्लैंड में इस साल काउंटी मैच भी खेले हैं।

लंबे समय से आउट ऑफ फॉर्म चल रहे हैं पुजारा
पुजारा मजबूत तकनीक के बल्लेबाज माने जाते हैं। लेकिन, पिछले कुछ समय से उनका बल्ला लगभग खामोश है। वे डेड डिफेंस के अलावा विशेष नहीं कर पाते हैं और उनकी बेहद धीमी बल्लेबाजी से अन्य बल्लेबाजों पर दबाव बढ़ता है। ऐसा भी नहीं है कि पुजारा धीमी बल्लेबाजी करते हुए लंबी पारी खेलते हैं। जून 2019 से उन्होंने 9 अर्धशतक जरूर बनाए हैं लेकिन उनका औसत सिर्फ 28 का रहा है।

ओपनिंग में फेरबदल का भी विकल्प खुला
पुजारा के अलावा ओपनर शुभमन गिल का लगातार कमजोर प्रदर्शन भी टीम इंडिया के लिए चिंता का विषय बना हुआ है। इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई में फरवरी माह में अर्धशतक जमाने के बाद गिल ने टेस्ट क्रिकेट में 0, 14, 11, 15*, 0, 28 और 8 रन की पारी खेली है। भारत के पास एक और विकल्प यह है कि राहुल से ओपनिंग कराई जाए और गिल को नंबर-3 पर मौका दिया जाए। इस स्थिति में विराट अपने पसंदीदा नंबर-4 पर खेलते रहेंगे।

बुमराह की जगह आ सकते हैं सिराज या शार्दूल
तेज गेंदबाजी के मोर्चे पर जसप्रीत बुमराह का प्रदर्शन सवालिया घेरों में है। बुमराह ने वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में बेहद साधारण गेंदबाजी की थी और एक भी विकेट नहीं ले पाए थे। कंडीशंस के लिहाज से उनकी लेंथ भी अच्छी नहीं थी। अगर बुमराह जल्दी फॉर्म में वापसी नहीं करते हैं तो उनके स्थान पर मोहम्मद सिराज या शार्दूल ठाकुर में से किसी एक को मौका दिया जा सकता है। अगर भारत चार तेज गेंदबाजों के साथ उतरता है तो सिराज और शार्दूल एक साथ भी खेल सकते हैं।

दो अभ्यास मैच करवाने की कोशिश
भारतीय टीम मैनेजमेंट के कहने पर BCCI ने इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड से अनुरोध किया है कि टेस्ट सीरीज से पहले टीम इंडिया को दो अभ्यास मैच दिए जाएं। माना जा रहा है कि इंग्लैंड लायंस (इंग्लैंड की ए टीम) के खिलाफ एक अभ्यास मैच तय हो गया है। दूसरा मुकाबला किस टीम से होगा इस पर चर्चा चल रही है। इन दोनों मुकाबलों में प्रदर्शन के आधार पर पहले टेस्ट मैच के लिए भारत की प्लेइंग-11 चुनी जा सकती है। पहला टेस्ट मैच 4 अगस्त से ट्रेंट ब्रिज में शुरू होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.