नीतीश पर FIR का मामला गरमाया: तेजस्वी बोले- सीएम आवास में लीगल टीम बैठी है, मुख्यमंत्री ईमानदार हैं तो डर से कांप क्यों रहे हैं

0
59

आईएएस सुधीर कुमार द्वारा मुख्यमंत्री औऱ उनके प्रधान सचिव चंचल कुमार समेत दूसरे अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने का मामला अब सियासी रंग लेता जा रहा है. सुधीर कुमार ने आज नीतीश कुमार समेत अधिकारियों के खिलाफ कागजातों का पुलिंदा पुलिस को सौंपा है. नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने तीखे सवाल पूछते हुए कहा है कि नीतीश कुमार के खिलाफ एफआईआर क्यों नहीं दर्ज किया जा रहा है. तेजस्वी ने कहा कि अगर एफआईआर होगा तो नीतीश कुमार जेल जायेंगे.

तेजस्वी का तीखा हमला

तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार के एक सीनियर आईएएस अधिकारी आज थाने में जाकर 6 घंटे तक बैठे रहे. अधिकारी सुधीर कुमार सबूतों का पुलिंदा लेकर थाने गये थे. उन्हें 6 घंटे तक थाने में बिठा कर रखा गया लेकिन एफआईआर दर्ज नहीं की गयी. तेजस्वी ने कहा कि उन्होंने देश में ऐसा कोई दूसरा मामला नहीं देखा है जब एक सीनियर आईएएस अधिकारी मुख्यमंत्री के खिलाफ केस दर्ज कराने थाना जाये औऱ उसकी शिकायत ही दर्ज नहीं की जाये. नियम कानून कहता है कि पुलिस को शिकायत दर्ज करनी है. उसके बाद जांच में अगर वह आऱोपी को निर्दोष पाती है तो एफआईआर को क्लोज कर दिया जाता है.

नीतीश का फंसना तय

तेजस्वी ने कहा कि उनके पास जो जानकारी आ रही है उसके मुताबिक सुधीर कुमार सारे सबूतों के साथ थाने में गये थे. उन्होंने पुलिस को सारे सबूत सौंपे हैं. अगर एफआईआर हुआ तो नीतीश कुमार का फंसना तय है. तभी नीतीश कुमार डर रहे हैं. तेजस्वी यादव ने कहा कि सुधीर कुमार जब आवेदन लेकर थाने पहुंचे तो उसे आनन फानन में सीएम हाउस भेज दिया गया. वहां सीएम की पूरी लीगल टीम बैठी है. वह आवेदन के साथ जो सबूत दिये गये हैं उसकी जांच पडताल कर रही है. तेजस्वी बोले-नीतीश कुमार फंस गये हैं तभी तानाशाह बन गये हैं. किस बात का डर औऱ भय उन्हें सता रहा है. नीतीश कुमार क्यों छिपे हुए हैं. 

तेजस्वी ने कहा कि किस कानून में लिखा है कि मुख्यमंत्री के खिलाफ केस दर्ज नहीं हो सकता. पुलिस को किसी की भी शिकायत को दर्ज करना है. उसके बाद जांच में जो कुछ आय़े उसके मुताबिक कार्रवाई करनी है. 

चंचल कुमार कारनामा कर रहे हैं

तेजस्वी यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव चंचल कुमार सारा कारनामा कर रहे हैं. नीतीश सरकार के मंत्री चंचल कुमार के खिलाफ बोल रहे हैं. सत्ताधारी बीजेपी के विधायक चंचल कुमार पर आरोप लगा रहे हैं. अब एक आईएएस अधिकारी चंचल कुमार पर आरोप लगा रहे हैं. फिर भी नीतीश कुमार औऱ चंचल कुमार में क्या सांठ गांठ है कि कार्रवाई नहीं हो रही है. तेजस्वी ने कहा कि दाल में काला साफ नजर आ रहा है. नीतीश कुमार को चंचल कुमार से कौन सा प्यार है, कौन सा प्रेम है कि कार्रवाई नहीं हो रही है. 

तेजस्वी यादव ने कहा कि बिहार में भ्रष्टाचार का राज चल रहा है.सारे भ्रष्ट अधिकारी अहम जगह पर तैनात हैं. नीतीश कुमार की कलई खुल गयी है. कानूनी शिकंजे से बचने के लिए नीतीश कुमार भ्रष्टाचारियों का हर जगह बचाव कर रहे हैं. तेजस्वी ने कहा कि नीतीश कुमार ने अपने उपर लगे हत्या के मुकदमे को इसी तरह से रफा दफा कराया. लोग आज भी मृतक के परिजनों से जाकर पूछ सके.

सुधीर कुमार को सुरक्षा दी जाये

तेजस्वी ने कहा कि सुधीर कुमार ने सबूत दिये होंगे तभी इतनी बौखलाहट सरकार के भीतर है. सुधीर कुमार मुख्य सचिव रैंक के आईएएस अधिकारी हैं. अगर उन्होंने एफआईआऱ दर्ज कराने का फैसला लिया होगा तो जरूर उनके पास तथ्य होंगे. अगर किसी अधिकारी ने साहस दिखाया है तो वह बचकानी हरकत नहीं होगी. यही वजह है कि मुख्यमंत्री बौखलाहट में हैं. 

सीएम आवास में बौखलाहट

तेजस्वी ने कहा कि सीएम आवास में बौखलाहट है. सीएम को वे कागजात दिखाये गये हैं जो थानेदार को सुधीर कुमार ने सौंपा है. सीएम हाउस में नीतीश कुमार के सारे नजदीकी अधिकारी मौजूद हैं. लीगल टीम बैठी है. तेजस्वी यादव ने कहा कि जिस पर आरोप लग रहा है वही तय कर रहा है कि एफआईआर होगा या नहीं होगा. नीतीश कुमार का डर बता रहा है कि मामला जरूर कुछ न कुछ है तभी इतनी बौखलाहट औऱ बेचैनी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.