मधुबनी: बीजेपी दफ्तर में बैठकर जाम छलकाते जिलाध्यक्ष का वीडियो वायरल, देखिये तस्वीर

0
91

बिहार में पूर्ण शराबबंदी है और ये नारा आप रोज सुनते होंगे. नीतीश कुमार के शराबबंदी के नारे पर बीजेपी का सुर में सुर मिलाते हुए कोरस भी सुनते होंगे. लेकिन अब जो तस्वीर सामने आयी है वह शराबबंदी के हर दावे की पोल खोलने वाली है. बीजेपी के एक जिलाध्यक्ष का पार्टी के जिला कार्यालय में बैठकर जाम छलकाने का वीडियो वायरल हो चुका है. किसी आम आदमी का मामला होता तो पुलिस उस घऱ तक को जब्त कर चुकी होती. लेकिन इस मामले में जांच चल रही है.

मधुबनी से सामने आयी तस्वीर

मामला मधुबनी जिले का है. दरअसल मधुबनी जिले को बीजेपी ने संगठन के ख्याल से दो सांगठनिक जिले में बांट रखा है. मधुबनी औऱ झंझारपुर. बीजेपी के झंझारपुर जिला अध्यक्ष सियाराम साह का जाम छलकाने का वीडियो वायरल हो चुका है. शराब की बोतल, सिगरेट के कश औऱ नमकीन चखने के साथ बीजेपी के जिलाध्यक्ष सियाराम साह. बैकग्राउंड बता रहा है कि ये वीडियो बीजेपी के जिला कार्यालय की है.

बीजेपी दफ्तर में दारू पार्टी

जो वीडियो वायरल हुआ है उसमें जिलाध्यक्ष सियाराम साह के साथ दो औऱ लोग बैठ कर जाम का मजा ले रहे हैं. वैसे जिलाध्यक्ष के साथ जाम की पार्टी कर रहे लोगों का चेहरा वीडियो में क्लीयर नहीं है लेकिन बीजेपी के जिलाध्यक्ष क्लीयर दिख रहे हैं. वीडियो में जिलाध्यक्ष सियाराम साह सिगरेट के कश लगाते दिख रहे हैं. उनके सामने टेबल पर शराब की बोतल है. बगल में पानी का बोतल औऱ टेबल पर रखे ग्लासों में शराब का पैग. नमकीन चखना भी साथ में टेबल पर परोसा गया है.  

बीजेपी दफ्तर में संगीत के साथ जाम

वीडियो के बैकग्राउंड में संगीत की भी आवाजें आ रही हैं. इसी बीच बीजेपी के जिलाध्यक्ष सियाराम साह अपने साथ बैठे व्यक्ति को पैग उठाने का इशारा करते नजर आ रहे हैं. बैकग्राउंड बता रहा है कि ये वीडियो बीजेपी के जिला कार्यालय का ही है जो झंझारपुर में है. मधुबनी के झंझारपुर अनुमंडल अस्पताल के पास बीजेपी का जिला कार्यालय है, ये वीडियो वहीं का बताया जा रहा है.

जिलाध्यक्ष क्या कह रहे हैं

वैसे फर्स्ट बिहार इस वीडियो की पुष्टि नहीं करता लेकिन ये वीडियो वायरल हो चुका है. मीडिया ने बीजेपी के जिलाध्यक्ष सियाराम साह से जब इस मसले पर बात की तो उन्होंने इसे अपने खिलाफ षडंयंत्र करार दिया. सियाराम साह ने कहा कि उनके विरोधी उन्हें फंसाने की चाल चल रहे हैं. जिलाध्यक्ष ने कहा कि ये वीडियो किसी औऱ आदमी का है जिसके चेहरे को हटा कर उनका चेहरा फिट कर दिया गया है. ये वीडियो एडिटिंग का कारनामा है. उन्होंने जिंदगी में कभी शराब को हाथ नहीं लगाया. 

पुलिस अभी जांच कर रही है

जाम छलकाने का ऐसा वीडियो किसी आम आदमी का होता तो पुलिस उसके घऱ तक को जब्त कर चुकी होती लेकिन मामला बीजेपी के जिलाध्यक्ष का है. लिहाजा कार्रवाई हो रही है. झंझारपुर के एसडीपीओ आनंद ने मीडिया को बताया कि इस वायरल वीडियो की जांच के आदेश दे दिये गये हैं. झंझारपुर के थानेदार को वीडियो की सत्यता की जांच के साथ साथ ये भी पता लगाने को कहा गया है कि वीडियो में जिनका चेहरा नहीं दिख रहा है वे कौन हैं. उनकी पहचान की जाये. ये वीडियो बीजेपी के जिला कार्यालय का है या नहीं इसकी भी जांच की जाये. बीजेपी ऑफिस के केयर टेकर से भी पूछताछ के आदेश दिये गये है. जैसे ही वीडियो की सत्यता की पुष्टि होगी वैसे ही कार्रवाई की जायेगी. उधर झंझारपुर के थानाध्यक्ष चंद्रमणि ने बताया कि उन्हें वायरल वीडियो मिल गया है. जांच की जा रही है. जैसे ही कोई नतीजा सामने आता है,उसके मुताबिक कार्रवाई की जायेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.