कोरोना से करना है बचाव? शरीर में न होने दें इन 4 विटामिन की कमी

0
108

कोरोना वायरस (Coronavirus) से लड़ने के लिए सबसे ज्यादा आपको अपनी इम्यूनिटी मजबूत बनाने की जरूरत है. कोरोना की तीसरी लहर से लड़ने और मानसून में खुद को स्वस्थ रखना बहुत जरूरी है. ऐसे में सर्दी, खांसी, जुकाम, बुखार से बचने के लिए आपको रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाना चाहिए. कोरोना वायरस से लड़ने के लिए आपके शरीर में विटामिन्स की कमी नहीं होनी चाहिए. जानते हैं कोराना से लड़ने और इम्यूनिटी (Immunity) को मजबूत बनाने के लिए आपके शरीर में कौन-कौन से विटामिन होने चाहिए. 

विटामिन-सी (Vitamin-C )- अगर आप सही मात्रा में विटामिन सी का सेवन कर रहे हैं तो आपकी इम्यूनिटी मजबूत रहेगी. विटामिन सी की कमी से फेफड़ों में सूजन आ जाती है. जिससे सांस लेने में तकलीफ होती है. विटामिन सी इस सूजन को कम करता है. आपको खाने में खट्टे फलों और सब्जियों से विटामिन सी मिल जाता है.

विटामिन बी-6 (Vitamin B 6)- इम्यूनिटी बूस्ट करने के लिए विटामिन बी-6 बहुत जरूरी है. विटामिन बी-6 में पाए जाने वाले बायोकेमिकल रिएक्शन इम्यूनिटी को मजबूत करते हैं. आपको अपने खाने में विटामिन बी-6 वाली चीजें शामिल करनी चाहिए. नॉन वेजिटेरियन लोग अपने खाने में अंडा, चिकन, साल्मन फिश शामिल कर सकते हैं.

​विटामिन-डी (Vitamin D)- बॉडी में कैल्शियम और फॉस्फोरस की कमी को पूरा करने के लिए विटामिन-डी का सेवन बहुत जरूरी है. आपको धूप से नेचुरली विटामिन डी मिलता है. डॉक्टर्स आपको विटामिन डी के सप्लीमेंट्स भी देते हैं. पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी लेने से सांस संबंधी संक्रमण से बचा जा सकता है. विटामिन डी शरीर में रेस्टपीरेट्री टेक्ट इंफेक्शन या रेस्पीरेटरी मसल्स को डिस्ट्रेस होने से भी बचाता है. कोरोना में शरीर में विटामिन डी सही मात्रा में होना जरूरी है. 

जिंक (Zinc)- कोरोना संक्रमण से बचने से किए शरीर में जिंक की मात्रा भी सही रूप में होना जरूरी है. जिंक की कमी से हमारे लिंफोसाइट्स काउंट प्रभावित होते हैं. जिंक से शरीर में लिंफोसाइट्स काउंट बढ़ते हैं और इम्यूनिटी मजबूत होती है. जिंक टी-सेल्स को एक्टिव करने और बनाने में भी मदद करता है. जिंक की कमी से शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली पर भी असर पड़ता है.

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों की सांध्य प्रवक्ता खबर पुष्टि नहीं करता है. इनको केवल सुझाव के रूप में लें. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.