कटिहार और पूर्णिया के राहत शिविरों में पहुंचे CM नीतीश, बोले-हर बाढ़ पीड़ित को मिलेगी राहत

0
72

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बुधवार को कहा कि हर पीड़ित को राहत मिलेगी। बाढ़ प्रभावित परिवारों को उपयुक्त सहायता मिलेगी। वे कटिहार के बरारी और पूर्णिया के रूपौली में बाढ़ राहत शिविर का निरीक्षण कर रहे थे। इस दौरान मुख्यमंत्री ने बाढ़ प्रभावित लोगों के लिए चलाये जा रहे राहत शिविरों, सामुदायिक रसोई का निरीक्षण किया और वहां रह रहे लोगों से बात भी की।

मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से 1:05 बजे कटिहार के भैंसदियारा स्थित हेलीपैड पहुंचे और बरारी स्थित बीएम कॉलेज शिविर का जायजा लिया। निरीक्षण के बाद उन्होंने कहा कि बाढ़ का स्थायी समाधान करने की कोशिश की जा रही है। जिन इलाकों में स्थायी समाधान संभव है वहां पर अवश्य किया जायेगा। गंगा नदी का जलस्तर कभी बढ़ता है तो कभी घटता है इसलिए परेशानी अधिक हुई है। उन्होंने कहा कि बाढ़ पीड़ितों को हर संभव मदद दी जानी है। लोगों को क्या कठिनाई है और राहत मिल रही है या नहीं यही देखने वे पीड़ितों बीच आये हैं।

शिविर में भोजन का इंतजाम किया गया है। चिकित्सक दल को भी लगाया गया है। सभी पीड़ित परिवार को जीआर राशि के तहत छह हजार रुपये उपलब्ध कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि फसल क्षति के आकलन कराने का निर्देश मुख्य अधिकारी को दिया गया है। राहत शिविर में कोरोना जांच कराने की व्यवस्था की गयी है। साथ ही कोरोना का टीका, वैक्सीनेशन, गर्भवती महिलाओं व बीमार लोगों की दवा व चिकित्सक की व्यवस्था की गयी है।

कटिहार जिला में बाढ़ प्रभावित परिवारों से मिलने के बाद बुधवार दोपहर मुख्यमंत्री पूर्णिया जिला के रूपौली प्रखंड स्थित तेलडीहा राहत शिविर पहुंचे। वहां उन्होंने बाढ़ राहत शिविर में प्रभावित लोगों का हालचाल पूछा। सामुदायिक किचेन में लोगों से उन्होंने बातचीत की। स्वास्थ्य विभाग के स्टॉल का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि बाढ़ की स्थिति पर जिलाधिकारी से लेकर पटना तक के आपदा विभाग और सिंचाई विभाग के अधिकारी नजर रखे हुए हैं। हर तरह की सहायता लोगों को मिलेगी। इस दौरान मुख्यमंत्री के साथ उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, खाद्य उपभोक्ता संरक्षण मंत्री लेशी सिंह, विधायक बीमा भारती, बरारी विधायक विजय कुमार सिंह, निर्वतमान एमएलसी अशोक अग्रवाल, जिला परिषद अध्यक्ष क्रांति देवी आदि मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.