पटना: छात्र राजद के अध्यक्ष आकाश यादव के हटाए जाने से प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद पर भड़के तेज प्रताप यादव, बोले-RJD के संविधान का उल्लंघन हुआ

0
82

राष्ट्रीय जनता दल के अंदर खींचतान जारी है। लालू के बड़े बेटे तेज प्रताप के कारण कई दिनों से दफ्तर नहीं जा रहे प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह बुधवार को कार्यालय पहुंचे तो धमाका कर दिया। तेज प्रताप को करारा झटका देते हुए उनके करीबी आकाश यादव को छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष पद से हटा दिया। उनका फैसला तेज प्रताप को रास नहीं आया। तेज प्रताप ने एक बार फिर उन पर हमला करते हुए आकाश यादव को हटाना राजद संविधान के खिलाफ बता दिया।

तेज प्रताप ने ट्वीट कर लिखा कि प्रवासी सलाहकार से सलाह लेने में अध्यक्ष जी ये भूल गए कि पार्टी संविधान से चलती है। राजद का संविधान कहता है कि बिना नोटिस दिए आप पार्टी के किसी पदाधिकारी को पदमुक्त नहीं कर सकते। आज जो हुआ वो राजद के संविधान के खिलाफ हुआ है। तेज प्रताप के ट्वीट के बाद माना जा रहा है कि राजद में अंदरूनी लड़ाई और तेज हो सकती है। इससे तेज प्रताप अपने ही पिता लालू यादव और भाई तेजस्वी के लिए मुश्किलें खड़ी कर सकते हैं। 

जगदानंद की तुलना हिटलर से कर दी थी

जगदानंद सिंह छात्र राजद के कार्यक्रम में तेजप्रताप यादव के बयान से नाराज थे। कार्यक्रम में तेजप्रताप ने उनकी तुलना ‘हिटलर’ से कर दी थी। इससे नाराज जगदानंद सिंह ने राजद कार्यालय आना बंद कर दिया था। यहां तक कि स्वतंत्रता दिवस के दिन पार्टी कार्यालय में झंडोतोलन करने भी नहीं आए। इसी बीच जगदानंद बुधवार की दोपहर अचानक राबड़ी देवी के आवास पर पहुंचे और तेजस्वी के साथ करीब दो घंटे तक बैठक की। बैठक के बाद राजद कार्यालय पहुंचे और छात्र राजद के पद से आकाश यादव को हटाकर गगन यादव को नियुक्ति कर दिया। 

आकाश को हटाकर जगदानंद ने दिया संदेश

जगदानंद को मनाने की कोशिश लालू प्रसाद और तेजस्वी यादव के स्तर पर लगातार चल रही थी। अंतत: लालू प्रसाद के कहने पर जगदानंद माने। लेकिन, जगदानंद ने छात्र राजद के प्रदेश अध्यक्ष रहे आकाश यादव को हटाकर गगन कुमार को जिम्मेवारी सौंपकर संदेश दिया कि अगर पार्टी को चलाना है तो सभी को उनकी सुननी पड़ेगी। इस कार्रवाई से यह भी स्पष्ट हो गया है कि जगदानंद सिंह अपने हिसाब से ही पार्टी का संचालन करेंगे। आकाश को हटाए जाने को तेजप्रताप का कद कम करने के रूप में भी देखा जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.