बिहार पंचायत चुनाव: जानिए कब होगी मतगणना, चार पद पर EVM से और दो पर बैलेट से होगा चुनाव

0
75

बिहार चुनाव आयोग ने राज्य में पंचायत चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया है। इसके लिए आज अधिसूचना जारी कर दी गई है। पूरे प्रदेश मेें आज से आचार संहिता भी लागू हो गई है। पहले जिन जिलों में बाढ़ नहीं है वहां मतदान कराए जाएंंगे। इसके बाद बाढग़्रस्त क्षेत्रों में चरणवार मतदान कराए जाएंगे। राज्य निर्वाचन आयोग ने नामांकन के लेकर जारी निर्देश में कहा है कि अधिसूचना के अगले दिन से सातवें दिन तक प्रत्याशी नामांकन कर सकेंगे। यदि नामांकन के अंतिम दिन सार्वजनिक अवकाश होगा तो नामांकन की मियाद एक दिन बढ़ाई जा सकेगी। इस बार छह करोड़ 38 लाख 94 हजार 737 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

72 घंटे के अंदर चुनाव परिणाम

बिहार में 11 चरणों में पंचायत चुनाव कराए जाएंगे और इस बार मतदान समाप्ति के 48 घंटे के अंदर ही मतगणना का काम पूरा हो जाएगा। ऐसा नहीं है कि सभी चरण की वोटिंग समाप्ति के बाद काउंटिग होगी, बल्कि वोटिंग के अगले दो दिनों के भीतर परिणाम जारी कर दिए जाएंगे।

24 से शुरू होगी वोटिंग : 

24 सितंबर को प्रथम चरण का चुनाव होगा। दूसरे चरण के लिए 29 सितंबर को वाोटिंग हाेगी। 8 अक्टूबर को तीसरे चरण का मतदान होगा, चौथे चरण का चुनाव 20 अक्टूबर को होगा। 24 अक्टूबर को पांचवें चरण के लिए वोटिंग होगी। 3 नवंबर छठे चरण का मतदान, 15 नवंबर को सातवें और 24 नवंबर आठवां चरण का मतदान होगा। इसी तरह 29 नवंबर नवें चरण, 8 दिसंबर 10 वें चरण और 12 दिसंबर को 11वें चरण की वोटिंग होगी।

मुख्य निर्वाचन आयुक्त दीपक प्रसाद ने बताया कि इस बार 8072 ग्राम पंचायत मुखिया का चुनाव होगा जिनमें 113307 ग्राम पंचायत सदस्य हैं। 11104 पंचायत समिति सदस्य का चुनाव होगा। 1160 जिला परिषद सदस्य का चुनाव होगा। 8072  सरपंच का का चुनाव होगा। 113307 पंच पदों के लिए चुनाव होगा।

किस प्रखंड में किस चरण में होगा चुनाव:

बिहार के मुख्य निर्वाचन आयुक्त दीपक प्रसाद ने बताया कि पहले चरण में 10 जिलों के 12 प्रखंडों में चुनाव कराए जाएंगे। दूसरे चरण में 32 जिलों के 48 प्रखंडों, तीसरे चरण में 33 जिलों के 50 प्रखंडों, चौथे चरण में 36 जिलों के 53 एवं पांचवें चरण में 38 जिलों के 58 प्रखंडों में चुनाव कराए जाएंगे। छठे चरण में 37 जिलों के 57 प्रखंडों, सातवें में 37 जिलों के 63 प्रखंडों व आठवें चरण में 36 जिलों के 55 प्रखंडों में मतदान होगा। नौंवें चरण में 33 जिलों के 53 प्रखंडाें तथा 10वें चरण में 34 जिलों के 53 प्रखंडों में चुनाव होंगे। 11वें चरण का मतदान बाढ़ प्रभावित इलाकों में होगा। इसके तहत 20 जिलों के 38 प्रखंडों में चुनाव होगा।

चार पदों पर ईवीएम से होगी वोटिंग: 

चार पदों पर ईवीएम से और दो पदों पर बैलेट से चुनाव होगा। बिहार के मुख्य निर्वाचन आयुक्त दीपक प्रसाद ने कहा कि देश भर से ईवीएममशीन जुटाना सबसे बड़ी चुनौती थी। सभी जिलों में ईवीएमकी चेकिंग हो गई है। हर चरण के लिए 2।56 लाख ईवीएम की जरूरत थी। अभी हर चरण के लिए 2.1 लाख ईवीएम लगाया गया है। चुनाव के लिए 10 प्रतिशत ईवीएम रिजर्व रखे गए हैं। 2 लाख बैलेट बॉक्स रखे गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.